भ्रमण-प्रशिक्षण में कृषकों ने सीखी वैज्ञानिक कृषि तकनीक

Share

हरदा। कृषि विस्तार सुधार कार्यक्रम आत्मा योजनान्तर्गत म.प्र. किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग की पी.पी. पार्टनर संस्था के.जे. एजुकेशन सोसायटी भोपाल ने खरीफ 2016 में जिले के हरदा, खिरकिया, टिमरनी,  वि.ख. ग्राम झुण्डगांव, झाड़पा, भवरदी माल, रैय्यत, वरुड़घाट, जिनवानी में फार्मस्कूल, आवासीय अध्ययन, समूह क्षमता विकास कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम जिले के कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों के मार्गदर्शन में आयोजित किये।
प्रशिक्षण कार्यक्रम में वैज्ञानिक कृषि प्रसार डॉ. सर्वेश कुमार यादव, वैज्ञानिक कीट शास्त्र डॉ. मुकेश बंकोलिया ने कृषकों को आगामी रबी सीजन से संबंधित उन्नत बीज किस्म, मिट्टी परीक्षण, बीजोपचार, संतुलित बीज मात्रा, संतुलित उर्वरकों का उपयोग, जैविक खेती, फसल चक्र, अन्तरवर्तीय फसल पद्धति, कीट नियंत्रण इत्यादि महत्वपूर्ण विषय पर जानकारी दी। इसी प्रकार जिले के अंदर भ्रमण कार्यक्रम अंतर्गत हण्डिया स्थित श्री अनिल कुमार तिवारी के फार्म हाऊस में लगी विभिन्न प्रकार की उद्यानिकी फसलों में जैसे संतरा, मौसम्बी, कटहल, पपीता, केला, आम इत्यादि पेड़-पौधों की विभिन्न प्रजातियों को विस्तार से देखा एवं इनका खेती में कितना महत्व है तथा इनसे साल भर में कितनी आमदनी होती है विस्तार से जाना। इसी प्रकार जिले के बाहर अध्ययन कृषि विज्ञान केंद्र उज्जैन में सम्पन्न कराया गया।
कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम में केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. एस. के. कौशिक ने आगामी रबी सीजन से संबंधित गेहूं की उन्नत बीज प्रजाति, पूसा मंगल, पूसा अनमोल, पोषण, जी.डब्ल्यू 322, जी.डब्ल्यू 273, जी.डब्ल्यू 1544, बीज दर, पानी की मात्रा, बोनी के लिये उचित समय इत्यादि विषयों पर जानकारी दी गई एवं कृषकों को अपनी खेती में अनेक सुधार के तरीके भी बताये गये। इसी के  साथ अध्ययन दल को संयुक्त संचालक उद्यान द्वारा उद्यान रोपणी का भी भ्रमण कराया गया।
उद्यान विभाग की नर्सरी में लगे विभिन्न प्रकार के उद्यानिकी पौधों की प्रजाति से कृषकों को रुबरू कराया गया। अध्ययन दल के कृषकों ने नर्सरी से विभिन्न प्रकार के उद्यानिकी पौधे भी लेकर आये एवं अपनी खेती में उद्यानिकी पौधों के महत्व को विस्तार से जाना।
सभी गतिविधियों में विकासखंड खिरकिया, टिमरनी के विकासखंड तकनीकी प्रबंधक डॉ. श्री चंद जाट, श्री रोहित कुमार यादव, सहायक तकनीकी प्रबंधक, श्री अतुल कुमार यादव, श्री गणेश रजने एवं सोसायटी के जिला समन्वयक  श्रवण मीणा, चैन लाल चौरे उपस्थित थे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.