जहां गम भी न हो आंसू भी न हों, बस प्यार ही प्यार मिले

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

जबलपुर। जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के इकलौते कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय के स्वर्ण जयंती वर्ष में भूतपूर्व छात्र-छात्राओं का पुनर्मिलन समारोह आयोजित किया गया।
इस मौके पर सबसे वरिष्ठ सदस्य एवं भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली के पूर्व उपमहानिदेशक एवं शेर-ए-कश्मीर कृषि विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. अनवर आलम मुख्य अतिथि थे।
इस अवसर पर अधिष्ठाता कृषि संकाय डॉ. पी.के. मिश्रा, डॉ. एस.के. उपाध्याय पूर्व संचालक (कृषि अभि.) भोपाल, श्री राजीव चौधरी संचालक कृषि अभियांत्रिकी म.प्र, जबलपुर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष श्री बृजबिहारी पटेल, कुलसचिव श्री अशोक कुमार इंगले, संचालक अनुसंधान डॉ. एस.के. राव, संचालक शिक्षण डॉ. धीरेन्द्र खरे, अधिष्ठाता कृषि अभियांत्रिकी महाविद्यालय डॉ. आर.के. नेमा एवं अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय डॉ. (श्रीमती) ओम गुप्ता आदि उपस्थित थे। श्री राजकिशोर सिंह नाईजीरिया, श्री सुभाष शर्मा इंग्लैंड एवं डॉ. मंजुल हजारिका बैंकाक सहित देश-विदेश के लगभग 200 भूतपूर्व छात्र शामिल हुए।
कुलसचिव श्री अशोक कुमार इंगले ने अपने सुरीले गीत- ‘जहां गम भी न हो आंसू भी न हों, बस प्यार ही प्यार मिलेÓ  से खासी वाह-वाही लूटी और जब स्क्रीन पर डिस्प्ले हो रही पुरानी तस्वीरों के साथ मोहम्मद रफी का गीत- ‘बचपन तुम्हारे साथ गुजारा है दोस्तों, ये दिल तुम्हारे प्यार का मारा है दोस्तोÓ हाल में गूंजा तो उपस्थितजन झूम उठे तो कुछ उमंग में नाचने लगे। अन्त में समूह भोज के साथ सोल्लास समापन हुआ। कार्यक्रम का संचालन डॉ. एम.के. हरदहा तथा आभार प्रदर्शन विभागाध्यक्ष डॉ. अतुल श्रीवास्तव ने किया। डॉ. अवधेश कुमार नेमा उप संचालक कृषि, म.प्र. शासन भोपाल एवं टीम का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × 3 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।