रिलायंस फाउण्डेशन की किसानों को सलाह

  • गेहूं में दीमक एवं जड़ माहू के प्रकोप की संभावना है, जिससे फसल में पीलापन दिखाई देने पर, नियंत्रण हेतु क्लोरोपयरीफॉस 20 ई सी 2 लीटर प्रति हेक्टर सिंचाई जल के साथ दें या 2 लीटर क्लोरोपायरीफॉस 20 ईसी 100 किलोग्राम रेत में मिलाकर प्रति हेक्टर की दर से सिंचाई पूर्व छिड़काव करें।
  • चना फसल में शाखा फुटान (टिल्लरिंग स्टेज) एवं पुष्पन अवस्था है। समय-समय पर खेत का निरीक्षण करते रहें। फसल में कटुआ कीट एवं इल्लियों के प्रकोप की सम्भावना है नियंत्रण हेतु खेतों में टी आकार की खूटियां करीब 40 से 50 प्रति एकड गाड़ दें, जिस पर पंछियों के बैठने का स्थान बन जावेगा जो इल्लियों को चुनचुन कर समाप्त कर देंगे।
  • सरसों की फसल में प्रथम सिंचाई 30-40 दिन की अवस्था पर व दूसरी सिंचाई 70 से 75 दिन की अवस्था पर करें
  • अरहर की फसल में फली छेदक एवं हरी रोयेदार इल्लियों का प्रकोप होने पर, कीटों के वयस्क को नियंत्रण हेतु फेरोमेन ट्रेप/प्रपंच (2 प्रपंच/एकड़) का उपयोग कर नर वयस्क को आकर्षित कर नष्ट किया जा सकता है
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत फसल बीमा करवाकर खेती में जोखिम को कम करें, ऋणी किसान हेतु स्वीकृत राशि एवं अऋणी किसान के प्रस्ताव बैंक में जमा कर फसल बीमा योजना का फायदा उठाएँ।

उद्यानिकी

  • आलू अगेती झुलसा के नियंत्रण करने के लिए डाइथेन एम-45 दवा 2 ग्राम मात्र प्रति लीटर उपयोग करें। आलू की फसलों में समय पर  सिंचाई करें।
  • गुलाब तथा गेंदे की फसल लगाना चाहते हों उनके लिए नए पौध तैयार करने के लिए गुलाब की कटिंग तैयार करने का अनुकूल समय है तथा ग्लेडीओलस तथा गेंदा के लिए नर्सरी तैयार करें।

पशुपालन 

  • पशुओं को स्वस्थ रखने के लिए पशुओं के आहार में 5-100 ग्राम खनिज मिश्रण रोज खिलाएँ व ताजा पानी पिलायें, साथ ही पशुओं को सूखे तथा गर्म आवास प्रदान करे। रात के समय 5-6 घंटे रोशनी की व्यवस्था करें तथा मुर्गी घरों को जूट के बोरों से ढककर रखें।

अधिक जानकारी के लिए सुबह 9:30 से शाम 7:30 के मध्य टोल फ्री नं 18004198800 पर संपर्क करें।

कृषि, पशुपालन, मौसम, स्वास्थ, शिक्षा आदि की जानकारी के लिए जियो चैट डाउनलोड करें-डाउनलोड करने की प्रक्रिया:-

  • गूगल प्ले स्टोर से जियो चैट एप का चयन करें और इंस्टॉल बटन दबाएं। 
  • जियो चैट को इंस्टॉल करने के बाद, ओपन बटन दबाएं।
  • उसके बाद चैनल बटन पर क्लिक करें और चैनल Information Services MP का चयन करें। 
  • या आप नीचे के QR Code को स्कैन कर, सीधे Information Services MP चैनल का चयन कर सकते हैं। 
टोल फ्री नं.18004198800 पर 
संपर्क करें सुबह 9.30 से शाम 7.30 बजे तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *