ई-अधिगम योजना के तहत विद्यार्थियों को 2GB फ्री डेटा के साथ मिलेंगे 5 लाख टैबलेट

Share

देश के लिए मिसाल बनेगा हरियाणा: 5 मई को रोहतक से होगा ई-अधिगम योजना का शुभारंभ

4 मई 2022, चंडीगढ़ । ई-अधिगम योजना के तहत विद्यार्थियों को 2GB फ्री डेटा के साथ मिलेंगे 5 लाख टैबलेट –
मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में हरियाणा देश भर के राज्यों के लिए एक बार
फिर से मिसाल बनने जा रहा है । मुख्यमंत्री के दूरदर्शी नेतृत्व में हरियाणा सरकार प्रधानमंत्री श्री
नरेन्द्र मोदी के 'डिजिटल इंडिया' अभियान को आगे बढ़ाते हुए सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 5 लाख
विद्यार्थियों को टैबलेट और फ्री डेटा प्रदान करने जा रही है। राज्य सरकार की इस महत्वाकांक्षी
योजना को ई-अधिगम (एडवांस डिजिटल हरियाणा इनिशिएटिव ऑफ गवर्नमेंट विद अडाप्टिव
मॉडयूल्स) नाम दिया गया है। मुख्यमंत्री के कर कमलों से रोहतक स्थित महर्षि दयानन्द
विश्वविद्यालय के टैगोर ऑडिटोरियम में 5 मई, 2022 को टैबलेट वितरण समारोह का शुभारंभ
होगा। इस दौरान रोहतक शहर के सरकारी विद्यालयों के विद्यार्थियों को ये टैबलेट दिये जाएंगे।
राज्य के 119 खंडों में भी यह टैबलेट वितरण समारोह इसी दिन आरंभ होगा। अन्य जिलों में मंत्री,
सांसद, विधायक, अन्य अतिथि, उपायुक्त एवं जिला प्रशासन के साथ मिलकर इसी दिन टैबलेट
वितरण करेंगे।

मुख्यमंत्री श्री मनोहर ने कहा कि हरियाणा सरकार की ई-अधिगम योजना निश्चित रूप से
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को पूरा करने की दिशा में मील का पत्थर
साबित होगी। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के लिए टैबलेट और डेटा ऐसे टूल हैं जिनसे 21वीं सदी के
कौशलों को ग्रहण करने में सहायता मिलेगी तथा राष्ट्रीय एवं अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर नए अवसर
मिलेंगे। ई-अधिगम से हरियाणा का विद्यार्थी भी ग्लोबल स्टूडेंट हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड
के दौरान माता-पिता के पास बच्चे की ऑनलाइन पढ़ाई कराने का कोई संसाधन नहीं था। आज
सरकार ई-अधिगम के माध्यम से यह कमी पूरी करने जा रही है। यह महत्वाकांक्षी योजना सरकारी
स्कूलों में पढ़ने वाले अधिकांश छात्रों के लिए ऑनलाइन शिक्षा के लिए कारगर कदम साबित होगी,
खासकर उन छात्रों के लिए जो स्मार्टफोन और टैबलेट जैसे उपकरणों को खरीदने में असमर्थ हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा युवाओं को रोजगारपरक शिक्षा प्रदान करने व कुशल
बनाने के लिए भी लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए गुरुग्राम में विश्व
कौशल केंद्र की स्थापना की जाएगी। उन्होंने कहा कि अभिभावकों को बच्चों की शिक्षा पर पूरा ध्यान
देना चाहिए और हर कदम पर उनका पथप्रदर्शक बनना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि अभिभावक
बच्चों को अच्छा नागरिक बनाएं तथा अच्छी शिक्षा एवं कौशल दिलवाकर हरियाणा एवं भारत की
अर्थव्यवस्था को मजबूत करें।

उल्लेखनीय है कि इस महत्वाकांक्षी योजना में सरकारी विद्यालयों की कक्षा दसवीं से बारहवीं में
पढ़ने वाले सभी विद्यार्थियों को टैबलेट, 2GB फ्री डेटा तथा पीएएल (पर्सनलाइज्ड अडेप्टिव लर्निंग)
प्लेटफार्म उपलब्ध करवाया जा रहा है। 10वीं तथा 12वीं (बोर्ड कक्षाओं) के विद्यार्थियों के लिये 5
लाख टैबलेट खरीदे गए हैं। 11वीं कक्षा अभी स्कूलों में नहीं है, 10वीं कक्षा का बोर्ड का परिणाम आने
के बाद जून, 2022 में 2 लाख 30 हजार से अधिक विद्यार्थियों के लिये अलग से टैबलेट खरीद की
जाएगी। इन कक्षाओं को पढ़ाने वाले सभी पी.जी.टी. जिनकी संख्या 33,000 है, को भी फ्री टैबलेट
दिया जा रहा है। अन्य निचली कक्षाओं (आठवीं से नौंवी) के लिये चरणबद्ध तरीके से इसकी
व्यवस्था की जाएगी।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.