मध्य प्रदेश में गेहूं खरीदी के लिए 80 हजार किसानों को भेजे गए एसएमएस

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

मध्य प्रदेश मेंगेहूं खरीदी के लिए 80 हजार किसानों को भेजे गए एसएमएस

सोमवार से रोज़ाना एक लाख एसएमएस भेजे जाएंगे

भोपाल : 18 अप्रैल प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए आज एक दिन में 80 हजार किसानों को एसएमएस भेजे गये। सोमवार से प्रतिदिन एक लाख किसानों को गेहूं खरीदी के एसएमएस भेजे जाएंगे। प्रमुख सचिव खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्री शिव शेखर शुक्ला ने बताया है कि प्रतिदिन खरीदी केन्द्रों पर किसानों की संख्या में इजाफा हो रहा है। बीस अप्रैल से प्रति खरीदी केन्द्र 20 छोटे और पांच बड़े काश्तकारों को एसएमएस भेजे जाएंगे। इससे गेहूँ खरीदी की मात्रा तेजी से बढ़ेगी। साथ ही किसान की बड़ी संख्या में लाभान्वित होंगे।

प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए आज एक दिन में 80 हजार किसानों को एसएमएस भेजे गये। सोमवार से प्रतिदिन एक लाख किसानों को गेहूं खरीदी के एसएमएस भेजे जाएंगे। प्रमुख सचिव खाद्य-नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्री शिव शेखर शुक्ला ने बताया है कि प्रतिदिन खरीदी केन्द्रों पर किसानों की संख्या में इजाफा हो रहा है। बीस अप्रैल से प्रति खरीदी केन्द्र 20 छोटे और पांच बड़े काश्तकारों को एसएमएस भेजे जाएंगे। इससे गेहूँ खरीदी की मात्रा तेजी से बढ़ेगी। साथ ही किसान की बड़ी संख्या में लाभान्वित होंगे।

डेढ़ हजार अधिक खरीदी केन्द्र बनाये गये
प्रमुख सचिव श्री शुक्ला ने बताया कि मध्यप्रदेश में गेहूं उपार्जन का काम प्रभावी ढंग से चल रहा है। खरीद केन्दों पर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए गेहूं उपार्जन का काम किया जा रहा है। उन्होने बताया कि खरीदी केन्द्रों पर किसानों की भीड़ एकत्रित ना हो तथा किसानों को गेहूँ विक्रय के लिए दूर तक न जाना पड़े, इसके लिए इस वर्ष गत वर्ष की तुलना में डेढ़ हजार अधिक खरीदी केन्द्र बनाए गए हैं। गत वर्ष मात्र साढे तीन हजार खरीदी केन्द्र थे। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 1500 गोदाम स्तरीय खरीदी केंद्र भी बनाए गए हैं, जहां पर सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई हैं।

खरीदी केन्द्रों पर स्वास्‍थ्य परीक्षण की व्यवस्था
खरीदी केन्द्रों पर किसानों के स्वास्थ्य परीक्षण, मास्क, सैनिटाइजर और हैंड वॉश की व्यवस्था भी की गई है। साथ ही किसानों के लिए छाया-पानी की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश सभी एजेंसियों को दिए गए हैं।

रविवार को भी होगी खरीदी
प्रमुख सचिव श्री शुक्ला ने बताया कि 15 अप्रैल से प्रारंभ हुए खरीदी कार्य में प्रतिदिन किसानों को एसएमएस भेजने की संख्या बढ़ाई जा रही है 17 अप्रैल को 38 हजार किसानों को,18 अप्रेल को 80 हजार किसानों को एसएमएस भेजे गये। रविवार 19 अप्रैल को भी 80 हजार किसानों को एस.एम.एस भेजे जाएंगे।

प्रथम चार दिन में 1 लाख 3 हजार 287 मैट्रिक-टन खरीदी
प्रमुख सचिव रबी उपार्जन के प्रथम दिन 15 अप्रैल को 2766 किसानों द्वारा 4954 मीट्रिक टन गेहूँ का विक्रय किया गया। दूसरे दिन 16 अप्रैल को 6738 किसानों द्वारा 12 हजार 824 मीट्रिक टन गेहूँ का समर्थन मूल्य पर विक्रय किया गया। तीसरे दिन 17 अप्रैल को 13 हजार 720 किसानों द्वारा 25 हजार 495 मीट्रिक टन गेहूँ का समर्थन मूल्य पर विक्रय किया गया। 18 अप्रैल को 25 हजार 792 किसानों से 60 हजार मीट्रिक टन खरीदी की गयी है। इस प्रकार कुल चार दिन में 49 हजार 016 किसानों ने अपने 1 लाख 3 हजार 287 मैट्रिक-टन गेहूँ का खरीदी केन्द्रों पर समर्थन मूल्य पर विक्रय किया।

निगरानी के लिये बनाए गए सेक्टर प्रभारी अधिकारी
किसानों से गेहूँ की समर्थन मूल्य पर खरीदी कार्य पर निगरानी के लिये जिला अधिकारियों को सेक्टर प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। इन सभी अधिकारियों के साथ चिकित्सकों की टीम भी तैनात है। खरीदी केन्द्रों पर आवश्यतानुसार किसानों का स्वास्थ्य परीक्षण कराने के लिये कहा गया है। प्रत्येक जिले को प्रतिदिन की खरीदी की सूचना राज्य-स्तरीय कंट्रोल रूम में उसी दिन अनिवार्य रूप से भेजने के निर्देश दिये गये हैं।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × two =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।