अगले 5 दिनों के दौरान पश्चिम व मध्य भारत और इसके आसपास के पूर्वी भारत में भारी वर्षा होने की संभावना है

Share

गुजरात, कोंकण व गोवा, मध्य महाराष्ट्र और तटीय कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा जारी रहने की संभावना है

4 जुलाई 2020, नई दिल्ली। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार अगले 5 दिनों के दौरान पश्चिम व मध्य भारत और इसके आसपास के पूर्वी भारत में भारी वर्षा होने की संभावना है

पश्चिम तट के साथ अरब सागर से तेज व नमीयुक्त दक्षिण / दक्षिण-पश्चिम हवाओं के उच्च अभिसरण तथा दक्षिण गुजरात एवं आस-पास के क्षेत्र के निचले क्षोभमंडल में चक्रवाती परिसंचरण के कारणअगले 5 दिनों के दौरान गुजरात, कोंकण व गोवा, मध्य महाराष्ट्र और तटीय कर्नाटक में लगभग सभी स्थानों पर व्यापक वर्षा तथा अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा जारी रहने की संभावना है। 03 और 04 जुलाई को कोंकण व गोवा (मुंबई सहित) और मध्य महाराष्ट्र में एवं 04 और 05 जुलाई, 2020 को गुजरात क्षेत्रमें अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा (≥20सेमी)होने की संभावना है।

एक चक्रवाती परिसंचरण पूर्वी उत्तर प्रदेश और आस-पास के क्षेत्र में स्थित है और एक उत्तर-दक्षिण द्रोणिका (ट्रॉफ)निचले क्षोभमंडल में पूर्वी उत्तर प्रदेश से पूर्वी विदर्भ तक है। इससे अगले 5 दिनों के दौरान मध्य और आसपास के पूर्वी भारत में लगभग सभी स्थानों पर व्यापक रूप से वर्षा होने / गरज के साथ बौछार पड़ने तथा अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.