सिमरोल सहकारी संस्था के खिलाफ भाकिसं का अनिश्चितकालीन धरना शुरू

Share

24 अगस्त 2022, इंदौर: सिमरोल सहकारी संस्था के खिलाफ भाकिसं का अनिश्चितकालीन धरना शुरू – पिछले तीन -चार वर्षों से सिमरोल सहकारी संस्था में हुए घोटाले /भ्रष्टाचार की धीमी जाँच ,सारा दोष किसानों पर थोपने और आरोपियों को बचाने जैसे आरोपों को लेकर भारतीय किसान संघ ,जिला इंदौर की महू तहसील इकाई द्वारा अपनी 16 सूत्री मांगों को लेकर आज से अनिश्चितकालीन धरना आरम्भ कर दिया।

महत्वपूर्ण खबर: बुरहानपुर में दुकानदार का उर्वरक प्राधिकार पत्र निलंबित

इस संबंध में भारतीय किसान संघ की महू तहसील इकाई के उपाध्यक्ष श्री जगदीश उजीवाल ने कृषक जगत को बताया कि सिमरोल सहकारी संस्था में पिछले तीन -चार सालों में हुए घोटाले /भ्रष्टाचार की विभाग द्वारा जाँच बेहद धीमी गति से की जा रही है। सारा दोष किसानों पर थोपकर आरोपियों को बचाने की कोशिश की जा रही है। इसे लेकर यह अनिश्चितकालीन धरना दिया जा रहा है। किसान संघ ने सभी खाताधारियों के खातों और सभी घोटालों की गैर विभागीय जाँच एक माह में पूरी करने और इस दौरान किसानों को खाद खरीदी की व्यवस्था करने के अलावा घोटाले के सभी जिम्मेदार और सूत्रधार की जाँच करके समस्त राशि इनकी निजी संपत्ति कुर्क कर वसूली की जावे जैसी प्रमुख मांगे शामिल हैं। श्री उजीवाल ने बताया कि आज के धरने में प्रान्त जैविक प्रमुख श्री आनंद ठाकुर,जिला संरक्षक श्री सुरेंद्र सिंह सुसनेर,जिला अध्यक्ष श्री कृष्णपाल सिंह राठौर ,महू तहसील अध्यक्ष श्री पृथ्वीराज पटेल और जिला मंत्री श्री धर्मेंद्र चौधरी सहित अन्य किसान बैठे हैं। मांगे पूरी नहीं होने तक यह धरना जारी रहेगा।

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़ ,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.