राज्य कृषि समाचार (State News)

पांढुर्ना में अमरूद की खेती का नवाचार

Share

23 मई 2024, (उमेश खोड़े, पांढुर्ना): पांढुर्ना में अमरूद की खेती का नवाचार – उद्यानिकी विभाग द्वारा पांढुर्ना जिले में किसानों को नवाचार के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसी क्रम में  ग्राम भाटेवाड़ी में किसान श्री चेतन दिलीप वाघवाले द्वारा नवाचार के तहत एक हेक्टर में ताइवान पिंक अमरुद की खेती फरवरी 2023 में  शुरू की जिसका अप्रैल 2024 में पहली बार पांच टन से अधिक अमरुद का उत्पादन हुआ। पांढुर्ना कलेक्टर श्री अजय देव शर्मा ने गत दिनों इस अमरुद फसल का निरीक्षण कर अन्य किसानों को प्रेरित करने को कहा था।

उमेश खोड़े, पांढुर्ना 

कृषक श्री चेतन ने कृषक जगत को बताया कि ग्राम भाटेवाड़ी में 9 फरवरी 2023 को एक हेक्टर में ताइवान पिंक अमरूद के 1650 पौधे लगाए थे। संतरे की खेती में वातावरण का प्रतिकूल प्रभाव अधिक होने से अमरुद की खेती करने का विचार विकल्प के रूप में इसलिए किया ,ताकि यह फसल मौसम के बजाय मेहनत पर आधारित हो। ताईवान पिंक निरंतर कलियाँ देता है। यथासमय छंटाई से फल गुणवत्तापूर्ण प्राप्त होते हैं। इसका वजन अच्छा ,स्वाद मीडियम मीठा और फल कड़क होता है। यह कटाई के बाद 8 दिन तक ढीला नहीं होता है। उद्यानिकी विभाग से हमेशा मार्गदर्शन मिलता रहता है। ड्रिप इरिगेशन के लिए विभाग से अनुदान भी मिला था।

श्री वाघवाले ने बताया कि ताईवान पिंक की अप्रैल में हुई पहली कटाई में 5 टन से अधिक का उत्पादन मिला। दूसरी कटाई अक्टूबर में आएगी तब तक निश्चित ही उत्पादन भी बढ़ेगा और दाम भी। अभी तो शुरुआत है। दूसरी कटाई में प्राप्त उत्पादन के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। इसके बाद ही साथी किसानों को कुछ कह पाऊंगा , ताकि उन्हें कोई नुकसान न हो।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

www.krishakjagat.org

www.en.krishakjagat.org

Share
Advertisements