किसानों की आय दुगुनी करने हेतु उन्नत किस्म के फलदार पौधे अनुदान पर उपलब्ध करायेगी लुपिन

Share

5 अगस्त 2020, भरतपुर। किसानों की आय दुगुनी करने हेतु उन्नत किस्म के फलदार पौधे अनुदान पर उपलब्ध करायेगी लुपिन जिले में किसानों को बागवानी विस्तार तथा किसानों की आय दुगुनी करने के लिये लुपिन फाउण्डेशन उन्नत किस्म के फलदार पौधे अनुदान पर उपलब्ध करायेगी जिसके लिये इच्छुक किसान लुपिन के भरतपुर एवं समस्त ब्लॉक स्तर कार्यालयों पर फलदार पौधों की अपनी मांग लिखित रूप में दिनांक 11 अगस्त 2020 तक दे सकते हैं।

लुपिन के कार्यक्रम प्रबन्धक भीमसिंह ने बताया कि उन्नत किस्म एवं शुद्ध गुणवत्ता से परिपूर्ण ये पौधे केन्द्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान लखनऊ, हार्टिकल्चर एक्सपेरीमेन्ट एण्ड ट्रेनिंग सेन्टर लखनऊ व झांसी एवं केन्द्रीय शुष्क क्षेत्र अनुसंधान संस्थान (काजरी) जोधपुर तथा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त प्रतिष्ठित नर्सरियों से मंगवाकर उपलब्ध कराये जायेंगे। इन संस्थानों में फलदार पौधे वरिष्ठ वैज्ञानिकों की देखरेख में तैयार होते हैं। इसी प्रकार अनार व अंजीर (ब्लैक एशिया) के पौधे एक्सीलेन्स सेन्टर ऑफ अनार बस्सी जयपुर से प्राप्त किये जायेंगे।

संस्था द्वारा मुख्य रूप से अमरूद की एल-49, श्वेता, धवल, ललित, आंवला की  एन.एन.-7, एन.ए.-10, बेलपत्र की सीआईएसएच बी-1 व बी-2 किस्म, अनार की भगवा व मृदुला, आम की दशहरी, लंगड़ा, आम्रपाली, अरूनीका, अम्बिका, जामुन की सीआईएसएच-जामवन्त, बेर की गोला, सेब, मौसम की बीकानेरी तथा टिश्यू कल्चर से तैयार किन्नू की सलैक्शन-1, नींबू की कागजी किस्म के पौधे अनुदान पर किसानों को मुहैया कराये जायेंगे। इन पौधों से जिले के प्रगतिशील किसान मदर प्लान्ट बगीचा तैयार कर सकते हैं जिससे भविष्य में कलमी पौधे तैयार कर लघु उद्यानिकी नर्सरी तैयार कर जिले के अन्य किसानों को भी अच्छी किस्म के पौधे उपलब्ध करा सकेंगे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.