पराली ना जलाएं, अन्यथा लगेगा 15 हजार तक का ज़ुर्माना

Share

24 जनवरी 2023, बुरहानपुर: पराली ना जलाएं, अन्यथा लगेगा 15 हजार तक का ज़ुर्माना – रबी फसल की कटाई के बाद खेत में आग लगाने वाले किसानों से शासन ने जुर्माना वसूलने का फैसला लिया है। यह जानकारी उप संचालक कृषि श्री देवके ने दी। उन्होंने बताया कि हार्वेस्टर के माध्यम से गेहूं की कटाई करने पर उसमें स्ट्रपर लगाना अनिवार्य होगा। आदेश का उल्लघंन करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी।

श्री देवके ने कहा कि हार्वेस्टर से कटाई करने पर एक फीट ऊँची गेहूं के डंठल खेत में ही रह जातेहैं । इसके बाद इसमें आग लगा दी जाती हैं। पिछले कई साल से ऐसा हो रहा है और किसानों द्वारा नरवाई जलाई जा रही है। इसकी लपटों से आसपास के खेतों में आग लग जाती है। वहीं आग की यह लपटे कई बार घरों तक भी पहुंच जाती है। इसे देखते हुए अब नरवाई/पराली जलाने पर शासन ने पाबंदी लगा दी है। नरवाई जलाने पर 2 एकड़ तक 2 हजार 500 रूपये, 5 एकड़ तक 5 हजार रूपये तथा 5 एकड़ से ज्यादा भूमि वाले किसानों पर 15 हजार रूपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा। इसके बाद भी यदि कोई नही मानता है तो खेत में आग लगाने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। नरवाई/पराली जलाने से यह असर होता है कि भूमि की उर्वरा शक्ति खत्म होती है,भूमि में पल रहे मित्र कीट केंचुआ नष्ट हो जाते हैं , मिट्टी में पाए जाने वाले लाभकारी सूक्ष्म जीवाणु जैसे रायजोबियम, एजेटोबेक्टर और एजोस्पैरिलम आदि नष्ट हो जाते हैं। कार्बन डाई-आक्साईड की मात्रा ज्यादा बनने से पर्यावरण को नुकसान होता है ।

नरवाई/पराली नष्ट करने के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान दिल्ली ने पूसा डीकम्पोजर नामक कैप्सूल बनाए हैं । 10 कैप्सूल की कीमत 50 रूपये है। कृषि वैज्ञानिकों के मुताबिक चार कैप्सूल एक एकड़ के खेत की नरवाई डीकम्पोजर कर देगा। पूसा डीकम्पोजर कैप्सूल में फंगल कल्चर का कंसोर्टियम होता है, जो कृषि फसलों के अवशेषों, रसोई, बगीचे, चाय, फूल, फल मंडी और गोशाला के कचरे (गाय का गोबर, आदि) सहित सभी प्रकार के कचरे को विघटित कर सकता है। आईएआरआई द्वारा पूसा डीकंपोजर के अधिकृत निर्माता हैं और यह कैप्सूल और तरल दोनों रूपों में उपलब्ध है। किसान अपना पता, पिन कोड, प्रो. प्रतिभा शर्मा, डायरेक्टर एन्ड प्रिंसिपल कोर्डिनेटर, पूसा वेस्ट डीकंपोजर यूनिट, ग्लोबल मैनजमेंट एंड इजी. जयपुर मो. 9810119397 पर कॉल कर या गूगलपे कर मंगवा सकते है।

महत्वपूर्ण खबर: गेहूं की फसल को चूहों से बचाने के उपाय बतायें

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *