कृषि एवं पशुपालन मंत्री ने किया गिर गायों के लिए शेड का लोकार्पण

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

03 नवम्बर 2020, जयपुर। कृषि एवं पशुपालन मंत्री ने किया गिर गायों के लिए शेड का लोकार्पण कृषि एवं पशुपालन मंत्री श्री लालचन्द कटारिया ने गत सप्ताह यहां जयपुर में सिरसी रोड स्थित आवास से श्री कर्ण नरेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय, जोबनेर में गिर गायों के लिए शेड व मिल्क पार्लर का वर्चुअल लोकार्पण किया। कृषि मंत्री श्री लालचन्द कटारिया ने बताया कि राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत पशुधन उत्पादन प्रबन्ध विभाग में डेयरी फार्म पर 62 लाख रुपए की लागत से गायों के लिए शेड व मिल्क पार्लर बनाया गया है। उन्होंने बताया कि इस नवनिर्मित शेड में 36 गायों को एक साथ रखा जा सकता है। साथ ही स्वचालित मिल्क पार्लर में एक साथ 4 गायों का दूध निकाला जा सकता है। इसमें दूध को ठंडा करने तथा पैकिंग की भी सुविधा होगी। उन्होंने बताया कि इससे इलाके के पशुपालकों को वैज्ञानिक ढंग से डेयरी फार्म प्रबंधन करने की जानकारी मिलेगी। इस अवसर पर श्री कर्ण नरेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय, जोबनेर के कुलपति श्री जेएस संधु एवं कृषि विश्वविद्यालयों के नोडल अधिकारी डॉ. ओमप्रकाश गढ़वाल उपस्थित थे।

महत्वपूर्ण खबर : श्री निरन्जन कुमार आर्य ने मुख्य सचिव का कार्यभार ग्रहण किया

‘पशुपालकों को नवीन योजनाओं एवं रिसर्च के माध्यम से लाभान्वित करने का सतत प्रयास’

इस अवसर पर प्रदेश की स्थानीय पशुधन नस्लों के संरक्षण एवं पशु उत्पादकता को बढ़ाने पर वेबिनार आयोजित किया गया। कृषि एवं पशुपालन मंत्री श्री कटारिया ने वेबिनार को सम्बोधित करते हुए कहा कि पशुपालन विभाग और कृषि विश्वविद्यालय पशुपालकों को नवीन योजनाओं एवं रिसर्च के माध्यम से लाभान्वित करने का सतत प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में पशुपालन एक अलग व्यवसाय का रूप ले चुका है, जिससे लोगों को स्वरोजगार का एक बेहतर विकल्प मिला है। इस क्षेत्र के समग्र विकास और कल्याण के लिए अनेक नए कार्यक्रम एवं योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। वेबिनार में विभिन्न विषय विशेषज्ञों ने अपने विचार व्यक्त किए।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − eight =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।