दुबई में PMFAI-ICSCE 2022 कृषि-इनपुट व्यापार शिखर सम्मेलन

Share

कृषक जगत मीडिया पार्टनर के रूप में विशेष आमंत्रित

P.dave
श्री प्रदीप दवे

7 फरवरी 2022, मुंबई । दुबई में PMFAI-ICSCE 2022 कृषि-इनपुट व्यापार शिखर सम्मेलन – PMFAI पेस्टिसाइड मैन्युफेक्चरर एंड फार्मूलेटर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया का प्रमुख कार्यक्रम-इंटरनेशनल क्रॉप साइंस कांफ्रेंस एंड एग्जिबिशन (ICSCE)  इस साल 14-15 फरवरी को दुबई में आयोजित होने जा रहा है। आयोजकों को वैश्विक स्तर पर कृषि रसायन समुदाय से जबरदस्त प्रतिसाद मिला है। इस कार्यक्रम में विषय विशेषज्ञों द्वारा तकनीकी सत्र भी होंगे एवं प्रदर्शनी में 100 से अधिक वैश्विक कंपनियां दो दिवसीय कार्यक्रम के दौरान अपने उत्पाद पोर्टफोलियो का प्रदर्शन करेंगी।

vikram-shroff1
श्री विक्रम श्रॉफ

कांफ्रेंस के मुख्य अतिथि और प्रमुख वक्ता श्री विक्रम श्रॉफ, निदेशक, यूपीएल समूह हैं। यह कार्यक्रम एसएमएल वार्षिक एग्रोकेमिकल अवॉर्ड्स की भी मेजबानी कर रहा है जो कि एग्रोकेमिकल उद्योग के लिए एक विशेष सम्मान समारोह है। पीएमएफएआई के अध्यक्ष श्री प्रदीप दवे ने बताया कार्यक्रम को दुबई-यूएई में आयोजित किया जा रहा इसे भारत का सबसे बड़ा कृषि-इनपुट व्यापार शिखर सम्मेलन आयोजन बताया। आपने कहा, ‘यह कृषि रसायन क्षेत्र के लिए पिछले दो वर्षों में निर्धारित पहला प्रत्यक्ष कार्यक्रम है जिसमें दुनिया भर के प्रतिनिधि शामिल होंगे। यह आयोजन एक ही स्थान पर नेटवर्क बनाने, उत्पादों का पता लगाने और बैठकें आयोजित करने का अवसर प्रदान करता है। यह 16वां अंतर्राष्ट्रीय फसल-विज्ञान सम्मेलन और प्रदर्शनी है जिसमें अन्य देशों के डेलिगेटस भी बड़ी संख्या में भाग लेंगे। आयोजन के मीडिया पार्टनर कृषक जगत के निदेशक श्री निमिष गंगराड़े भी इसमें विशेष रूप से आमंत्रित किये गए हैं।

यह कृषि आदानों पर एक विशेष कार्यक्रम है जिसमें कवकनाशी, शाकनाशी, कीटनाशक, कीटनाशक और मध्यवर्ती (सॉल्वैंट्स, सर्फेक्टेंट, मध्यवर्ती आदि), उर्वरक, कृषि रसायनिक पैकेजिंग, बीज, शो शामिल हैं, जो वितरकों, आपूर्तिकर्ताओं से मिलने का अवसर प्रदान करते हैं। आर एंड डी कार्यकारी, तकनीकी कार्यकारी, निर्माता, सलाहकार, निर्यातक, आयातक, कृषिविद, अनुसंधान संस्थान, बीज कंपनियां, सिंचाई उपकरण निर्माता, वृक्षारोपण और बागवानी उत्पादक, जैव-कीटनाशकों के निर्माता और वितरक, जैव-उर्वरक, सूक्ष्म पोषक तत्व, प्रमुख सरकारी अधिकारी, नीति निर्माता और; अनुसंधानकर्ता, उद्योग संघ, चैंबर ऑफ कॉमर्स आदि वे सभी जो प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से कृषि इनपुट से जुड़े हैं, इस अंतर्राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस में भाग ले रहे हैं।

महत्वपूर्ण खबर: पशुपालक केसीसी लिंकेज अभियान में मध्यप्रदेश अग्रणी

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.