पीएम किसान के 20 हजार करोड़ से ज्यादा जमा

Share

साढ़े 9 करोड़ से अधिक किसानों के खातों में

22  मई 2021, नई दिल्ली ।  पीएम किसान के 20 हजार करोड़ से ज्यादा जमा – प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम किसान) योजना की आठवीं किश्त गत शुक्रवार को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के हस्ते लाभार्थी किसानों के बैंक खातों में जमा करा दी गई। इस कार्यक्रम में 9,50,67,601 किसानों को 20.66 हजार करोड़ रू. से ज्यादा राशि प्राप्त हुई। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों के हक का पैसा सीधे उनके बैंक खातों में पहुंच रहा है। उन्होंने कोरोना महामारी का जिक्र करते हुए कहा कि चुनौतियों के बीच भी किसानों ने कृषि एवं बागवानी में रिकॉर्ड उत्पादन किया है और एमएसपी पर गेहूं के उपार्जन का इस वर्ष नया रिकार्ड बना है। कार्यक्रम में केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री जी की कल्पना के अनुरूप पीएम किसान में 100 प्रतिशत सेचुरेशन को मूर्त रूप देने में कृषि एवं किसान कल्याण विभाग सफल होगा।

केसीसी भुगतान की मियाद 30 जून हुई

प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम में किसानों से वर्चुअल संवाद किया। कई मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री, सांसद, अन्य जनप्रतिनिधि व करोड़ों किसान ऑनलाइन जुड़े थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले साल की तुलना में इस साल एमएसपी में लगभग 10 प्रतिशत अधिक गेहूं की खरीद की गई है। अभी तक लगभग 58 हजार करोड़ रू. गेहूं खरीद के पेटे सीधे किसानों के खाते में पहुंच गए हैं। सरकार खेती में नए समाधान व नए विकल्प प्रदान करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। जैविक खेती को बढ़ावा देना भी इनमें से एक है। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना काल को देखते हुए किसान क्रेडिट कार्ड से संबंधित ऋण के भुगतान या नवीनीकरण की समय-सीमा को बढ़ाकर 30 जून 2021 कर दिया गया है। 2 करोड़ से अधिक केसीसी जारी किए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी दुनिया को चुनौती दे रही है, यह हमारे सामने एक अदृश्य दुश्मन है, जिससे सरकार पूरी ताकत से लड़ रही है। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 के बारे में चेतावनी देते हुए ग्राम पंचायतों से अपने क्षेत्रों में समुचित जागरूकता व स्वच्छता सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किया संबोधित

प्रारंभ में,केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी मोदी जी की हमेशा कोशिश रही है कि गांवों में अधोसंरचना विकसित हो व सुशासन स्थापित हो, किसानों की आमदनी बढ़े। किसानों की आय बढ़ाने के लिए श्री मोदी जी ने पीएम किसान स्कीम प्रारंभ की, जिसमें हर साल 6 हजार रूपए किसानों को आय-सहायता के रूप में मिलते हैं। पीएम किसान जितना दायरा शायद किसी भी योजना का नहीं है। इसमें 11.80 करोड़ किसानों ने पंजीयन कराया, 10.82 करोड़ किसानों को सम्मान निधि मिली है। इन्हें 1.16 लाख करोड़ रू. सेअधिक राशि केंद्र सरकार द्वारा दी गई है। इसके अलावा, आज साढ़े 9 करोड़ से अधिक किसानों को 20 हजार करोड़ रू. से ज्यादा राशि अंतरित की गई। केंद्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि इस योजना से पश्चिम बंगाल भी जुड़ गया है, जहां के 7 लाख से अधिक किसानों को आज पीएम किसान सम्मान निधि उनके बैंक खातों में शिफ्ट की गई है। अब पूरा भारतवर्ष इस स्कीम से जुड़ा है।

क्या खास है पीएम किसान योजना में
  •  6 हजार रूपए हर साल, किसानों को सहायता।
  • 11.80 करोड़ किसानों ने पंजीयन कराया।
  • 10.82 करोड़ किसानों को सम्मान निधि मिली।
  • 1.16 लाख करोड़ रू. से अधिक राशि केंद्र सरकार द्वारा दी गई।
  • पश्चिम बंगाल के 7 लाख से अधिक किसान भी जुड़े।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.