एनएफएल ने आईटीआई, राघोगढ़ के साथ एमओयू किया

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

01 अक्टूबर 2020, नई दिल्ली। एनएफएल ने आईटीआई, राघोगढ़ के साथ एमओयू किया नेशनल फर्टिलाइजर्स लिमिटेड (एनएफएल) ने युवाओं को विभिन्न तरह का कौशल प्रशिक्षण देकर भारी तथा प्रसंस्करण उद्योग में उनके रोजगार की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए मध्य प्रदेश के ऱाघोगढ़ स्थित औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

महत्वपूर्ण खबर : कर्नाटक, महाराष्ट्र, हरियाणा में एमएसपी पर 14 लाख टन दलहन और तिलहन की खरीद होगी

एनएफएल की मध्यप्रदेश के विजयपुर स्थित इकाई ने इलेक्ट्रीशियन, फिटर और वेल्डर के व्यवसाय में युवाओं को प्रशिक्षित करने के लिए नजदीक में स्थित आईटीआई, राघोगढ़ के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके तहत छात्रों को दोहरा प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है। एक ओर जहां उन्हें संस्थान में सैद्धांतिक रूप से प्रशिक्षित कर उनका कौशल विकास किया जाएगा वहीं दूसरी ओर एनएफएल के संयंत्र में उन्हें 6 महीने का व्यावहारिक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा वहीं दूसरी ओर एनएफल के संयंत्र में उन्हें 6 महीने का व्यावहारिक प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

प्रशिक्षण की कुल अवधि आईटीआई के पाठ्यक्रम के अनुसार होगी। इसके साथ ही प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षण की इस अवधि में से छह महीने (एनएफएल की विजयपुर इकाई में) काम करने का अवसर भी मिलेगा। समझौता ज्ञापन पर एनएफएल की विजयपुर इकाई के मुख्य महा प्रबंधक श्री जगदीप शाह सिंह की उपस्थिति में इकाई के महाप्रबंधक (एचआर) श्री नरेन्द्र सिंह तथा आईटीआई, राघोगढ़ के श्री जे पी कोली की ओर से हस्ताक्षर किए गए। एनएफएल के पास पांच गैस आधारित अमोनिया-यूरिया संयंत्र हैं। जिनमें से दो पंजाब के  नंगल और बठिंडा में , एक हरियाणा के पानीपत में और दो मध्य प्रदेश के गुना और विजयपुर में हैं।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − eighteen =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।