राष्ट्रीय कृषि समाचार (National Agriculture News)

केंद्रीय बजट 2022-23 में मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय पर जोर दिया गया

Share

3 फरवरी 2022, नई दिल्ली । केंद्रीय बजट 2022-23 में मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय पर जोर दिया गया – केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत केंद्रीय बजट 2022-23 में मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के लिए 6,407.31 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। यह मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के बजट आवंटन में 44 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।

पशुपालन और डेयरी विभाग के सचिव श्री अतुल चतुर्वेदी ने कहा, “2022-23 में पशुधन के लिए बजट में 40 प्रतिशत की वृद्धि की गई है और केंद्रीय क्षेत्र की योजनाओं में 48 प्रतिशत की वृद्धि की गई है, जो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पशुधन और दूध उत्पादक किसानों के विकास के लिए सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।”

श्री अतुल चतुर्वेदी ने इस तथ्य पर प्रकाश डाला है कि सहकारी समितियों के लिए वैकल्पिक न्यूनतम कर और अधिभार में कमी से भारत में हजारों डेयरी सहकारी समितियों को लाभ होगा, जिसके परिणामस्वरूप देश के 8 करोड़ दूध उत्पादक किसानों की आय बढ़ेगी।

राष्ट्रीय गोकुल मिशन और राष्ट्रीय डेयरी विकास कार्यक्रम के लिए 2022-23 में बजट में 20 प्रतिशत की वृद्धि से स्वदेशी गोवंश की संख्या की उत्पादकता और गुणवत्तापूर्ण दूध उत्पादन में वृद्धि होगी, जिससे 8 करोड़ दूध उत्पादक किसानों को लाभ होगा।

उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष की तुलना में 2022-23 के लिए पशुधन स्वास्थ्य और रोग नियंत्रण के लिए निधि आवंटन में लगभग 60 प्रतिशत की वृद्धि के साथ ‘वन हेल्थ मिशन’ के कार्यान्वयन से स्वस्थ पशुधन और स्वस्थ भारत सुनिश्चित होगा।

महत्वपूर्ण खबर: देश की प्रमुख मंडियों में सोयाबीन के मंडी रेट और आवक (2 फरवरी 2022 के अनुसार)

Share
Advertisements

2 thoughts on “केंद्रीय बजट 2022-23 में मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय पर जोर दिया गया

  • मै मत्स्य पालक हू और बलिया जिले के अंतर्गत ग्राम पंचायत टुटूवारी से आता हूं मुझे न ही लोन मिलता है और न ही इससे सम्बंधित जानकारी ओर यहां तक कि बीज तक कि भी जिले मे ब्यवस्था नही की गई है और ना हो कोई डॉक्टर ।

    Reply
  • कोई सुविधा नही मिल रही बलिया में

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *