कम पानी में अधिक उत्पादन देने वाली किस्म विकसित करें : श्री सिंह

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

एपीसी, प्रमुख सचिव ने किया इकार्डा प्रक्षेत्र का भ्रमण

(विशेष प्रतिनिधि)
8 फरवरी 2021, भोपाल।कम पानी में अधिक उत्पादन देने वाली किस्म विकसित करें : श्री सिंह- इंटरनेशनल सेंटर फॉर एग्रीकल्चर रिसर्च इन द ड्राय एरिया फूड लेग्यूम रिसर्च प्लेटफार्म की गतिविधियों का निरीक्षण करने के लिए गत दिनों म.प्र. के कृषि उत्पादन आयुक्त श्री के.के. सिंह एवं प्रमुख सचिव श्री अजीत केसरी ने संस्थान का भ्रमण किया।

इस मौके पर कृषि उत्पादन आयुक्त श्री सिंह ने प्रक्षेत्र पर आयोजित अनुसंधान ट्रायल का अवलोकन किया। उन्होंने संस्थान से अपेक्षा की कि ऐसी प्रजातियां विकसित करें जो कम पानी में अधिक उत्पादन व रोग मुक्त तथा प्रदेश के सभी क्षेत्रों के लिए अनुकूल हों, विशेषकर बुन्देलखंड क्षेत्र जहां पानी की कमी है। वहीं केक्टस को पशुचारा के लिये उपयोग और दलहन में मसूर व तिवड़ा के उत्पादन पर चर्चा की। प्रमुख सचिव श्री केसरी ने मसूर, चना, गेहूं व जौ की न्यूट्रिशियल क्वालिटी को इंप्रूव करने तथा दालों में अधिक आयरन व जिंक, गेहूं में बीटाकेरोटीन व ग्लूटामिन और जौ में माल्ट प्रतिशत बढ़ाना तथा तिवड़ा में टॉक्सिन कटेन्ट कम करने पर जोर दिया।

इसके पूर्व इकार्डा संस्थान के बारे में डॉ. आशुतोष सरकार संस्था प्रमुख ने प्रक्षेत्र पर की गई गतिविधियों की जानकारी दी। जिसमें प्रमुखत: से लगभग 60,000 जर्मप्लाज्म को ईवेल्यूएट किया और 4000 उन्नत जर्मप्लाज्म- मसूर, चना, तिवड़ा, कठिया गेहूं व जौ को राज्य कृषि विश्वविद्यालय और भारत सहित साउथ एशिया के संस्थानों को प्रदान किया जाता है जिसमें से कई उन्नत प्रजातियों को विकसित किया जा रहा है जो कि पानी में अधिक रोगप्रतिरोधी रहेंगी। संस्थान के जेनेटिक मटेरियल से 9 वेरायटी बंग्लादेश में और 7 वेरायटी नेपाल में प्रायोगिक चरण में है।

उन्होंने बताया कि संस्थान लगभग 45 अन्य देश के लिए कार्य करता है। संस्थान के प्लेटफार्म मैनेजर डॉ. निगमानंदा स्वाई ने प्रमुख कार्य मुख्यत: केक्टस उत्पादन व प्रबंधन जिससे मृदा क्षरण को रोका जा सके बताया गया। संस्थान के अन्य वैज्ञानिक डॉ. सुरेन्द्र बारमेटे, डॉ. रीना मेहरा ने संस्थान में किये जा रहे शोध व कम पानी में पैदा होने वाली प्रजातियों का प्रदर्शन किया।
भ्रमण दल के साथ श्रीमती गुंचा सनोवर अपर कलेक्टर सीहोर, श्री बी.एल. बिलैया संयुक्त संचालक भोपाल, श्री आर.एस. जाट उपसंचालक कृषि एवं श्री आदित्य जैन एसडीएम. सीहोर एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।