गोल्ड बायोनिक एक जैव उर्वरक

Share

25 अगस्त 2022, रायपुर   गोल्ड बायोनिक एक जैव उर्वरक – गोल्ड बायोनिक ट्रॉपिकल एग्रोसिस्टम का सबसे उत्कृष्ट जैव उत्पाद है जिसमें वेसिकुलर अर्वस्कुलर माइकोराइजा (वैम) नामक जीवित फफूँद मौजूद है। ट्रॉपिकल एग्रोसिस्टम का गोल्ड बायोनिक कोई नया उत्पाद नहीं है बल्कि बहुत समय से चला आ रहा वह उत्पाद है जो पूर्व में ही नहीं बल्कि वर्तमान समय में भी हमारे छत्तीसगढ़ ही नहीं पूरे भारतवर्ष के किसान भाइयों की फसल में भारी वृद्धि कर हमारे किसान भाइयों की आय में भी भारी वृद्धि की है। यह जानकारी कंपनी के सीनियर डेवलपमेंट ऑफीसर श्री राजीव सिसोदिया ने दी।

उन्होंने बताया कि ट्रॉपिकल एग्रोसिस्टम का गोल्ड बायोनिक सभी प्रकार की फसलों के लिए अनुशंसित है। चूँकि छत्तीसगढ़ राज्य में धान की अत्याधिक खेती की जाती है इसलिए छत्तीसगढ़ राज्य धान उत्पादक राज्यों की श्रेणी में आता है। ट्रॉपिकल एग्रोसिस्टम का गोल्ड बायोनिक धान की फसल की रोपाई या सीधी बुआई और अन्य विधि द्वारा लगाई गई धान की फसल में प्रथम यूरिया (उर्वरक) के समय अर्थात जब पहली बार खाद के रूप में जो यूरिया दिया जाता है उसी समय हमारे किसान भाई गोल्ड बायोनिक को उसी खाद में 100 से 200 ग्राम प्रति एकड़ मिलाकर धान की फसल में प्रयोग कर सकते हैं जो जमीन में जाकर हमारी फसल के पौधों की जड़ व्यवस्था को जमीन में कई गुना फैलाने और अधिक गहराई में पहुँचाने का कार्य करता है।

साथ ही साथ जमीन में मौजूद फॉस्फोरस (डीएपी), जिंक और सल्फर को घोलने का कार्य भी करता है जिससे हमारे पौधों की जड़ व्यवस्था को फॉस्फोरस के साथ जिंक व सल्फर भी आसानी से प्राप्त हो जाता है और हमारे किसान भाइयों को अलग से फॉस्फोरस (डीएपी) की मात्रा आधी कर मात्र 30 से 35 कि.ग्रा. डीएपी का ही प्रयोग कर सकते हैं और बाकी की फॉस्फोरस की आपूर्ति ट्रॉपिकल एग्रोसिस्टम का गोल्ड बायोनिक (वैम) हमारी फसल को उपलब्ध करा देता है जिससे हमारी फसल का उत्पादन कई गुना बढ़ जाता है। साथ ही साथ जिंक और सल्फर की भी मात्रा की आपूर्ति हो जाती है इस प्रकार गोल्ड बायोनिक हमारी फसल को मजबूत कर देता है। साथ ही साथ गोल्ड बायोनिक हमारे किसान भाइयों के खेतों की मिट्टी को भी नरम एवं भुरभुरा बनाने का काम करता है। गोल्ड बायोनिक 100 से 200 ग्राम प्रति एकड़ प्रयोग करें। गोल्ड बायोनिक को धान की फसल में दिये जाने वाले प्रथम यूरिया या रेती और सड़ी गोबर की खाद के साथ मिलाकर प्रयोग कर सकते है।

ट्रॉपिकल एग्रोसिस्टम का गोल्ड बायोनिक पूर्णत: जैविक है इससे पर्यावरण एवं अन्य पशु पक्षी जीव जंतु मनुष्य को कोई हानि नहीं है।

महत्वपूर्ण खबर: इंदौर जिले के उन्नतशील कृषक सम्मानित

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.