अदरक तथा हल्दी के बीजों का भंडारण किस प्रकार किया जाता है ताकि बुआई करते समय अच्छा बीज मिल सके ?

Share
  • प्रभाकर राव, मुलताई

21 जून 2021, भोपाल । समस्या – अदरक तथा हल्दी के बीजों का भंडारण किस प्रकार किया जाता है ताकि बुआई करते समय अच्छा बीज मिल सके  ?  –

समाधान – अदरक तथा हल्दी दोनों ही नगदी फसलें हैं इनका बीज काफी महंगा मिलता है। इस कारण स्वयं की फसल में निकले उत्पादन को वे चयन के पहले निम्न करें।

  • अच्छे – अच्छे सुडौल प्रकंदों का चयन करके उन्हें अलग से रखें तथा अच्छी तरह से सुखा लें
  • 2&1 मीटर लंबे-चौड़े गड्ढे सूखी ऊंची जगह का चयन करके तैयार करें।
  • गड्ढों में चारो तरफ लकड़ी के गत्ते लगाकर पुख्ता करे कि नमी बीज तक नहीं पहुंच पायेगी।
  • सबसे नीचे एक परत रेत या बुरादा या धान का सूखा पुआल भरे उसके ऊपर एक परत बीज की।
  • उसके ऊपर फिर से रेत, पुआल या बुरादा की एक परत रखे फिर बीज की परत रखें।
  • बीज का उपचार भंडारण के पूर्व 2 मि.ली. क्यूनालफॉस/लीटर पानी में घोल बनाकर 15 मिनट तक डुबोकर रखें निकालकर अच्छी तरह से सुखा लें।
  • इसके बाद 2 ग्राम मेन्कोजेब/किलो बीज के हिसाब से बीज का उपचार करें।
  • इस तरह उपचारित बीज को तैयार गड्ढों को उपरोक्त विधि से भरें।
  • हवा के संचार के लिये छिद्र युक्त प्लास्टिक के पाईप बीज में डालें। तथा ऊपरी सतह तक रखे।
  • गड्ढों के ऊपरी सतह को मिट्टी से ढकें।
Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.