महेश को तरबूज फसल से मिला मुनाफा

Share
  • (दिलीप दसौंधी,मंडलेश्वर)

7 मई 2022, महेश को तरबूज फसल से मिला मुनाफा – परम्परागत खेती के साथ यदि उद्यानिकी फसलों की भी खेती की जाए तो मुनाफा अच्छा मिलता है। इसे साबित किया है ग्राम नांद्रा जिला खरगोन के उन्नत कृषक श्री महेश पाटीदार ने। इन्होंने तरबूज की खेती कर अच्छा लाभ अर्जित किया है। अतिरिक्त आय के लिए ये कीटनाशक दवाइयों का विक्रय भी करते हैं।

श्री महेश पाटीदार ने कृषक जगत को बताया कि परम्परागत खेती के तहत इस साल रबी में गेहूं और डॉलर चना लगाया था। गेहूं का उत्पादन करीब 12 क्विंटल/बीघा और डॉलर चने का उत्पादन 4 क्विंटल/बीघा मिला। सिंचाई के लिए कुंआ है। इसलिए उद्यानिकी फसल में दो एकड़ में प्याज लगाया है, जिसकी उपज अभी आना बाकी है, जबकि दो एकड़ में बाहुबली किस्म का तरबूज लगाया था, जिसकी दो बार तुड़ाई हो चुकी है और अब तक करीब 30 टन उत्पादन मिल चुका है। इस वर्ष मौसम प्रतिकूल होने और तापमान अधिक होने से उत्पादन पर थोड़ा असर पड़ा है। व्यापारी खेत से ही 11 -12 रुपए प्रति किलो की दर पर माल खरीदकर ले जा रहे हैं। इससे परिवहन खर्च भी बच रहा है, जिससे मुनाफा भी बढ़ रहा है।

डी-फार्मा के साथ ही सूक्ष्म जीव विज्ञान में स्नातक श्री पाटीदार खेती के अलावा रासायनिक कीटनाशक दवाइयां भी बेचते हैं। इसके लिए नांद्रा में ही करीब 5 वर्ष पूर्व चोपड़ा ट्रेडर्स के नाम से दुकान खोली, जहां प्रतिष्ठित कंपनियों की गुणवत्तापूर्ण दवाइयां बेचने से साख बनी है। व्यवसाय ठीक चल रहा है। खेती के अलावा अतिरिक्त आय हो रही है। जिन कंपनियों से वे जुड़े हैं, वे जल्द ही मिट्टी परीक्षण और ड्रोन से स्प्रे की सुविधाएं भी उपलब्ध करवाने वाली है। इससे किसानों को गांव में ही इसका लाभ मिलेगा। सम्पर्क -9826067714

महत्वपूर्ण खबर: यूपीएल ने मॉडल विलेज ‘बिदल’ को दिया 50 मीट्रिक टन ‘ जेबा

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.