खरगोन में, जड़ी से भी मिली कपास

Share

खरगोन। उप संचालक खरगोन श्री एम.एल. चौहान एवं पी.डी. आत्मा श्री एम.एल. वास्केल द्वारा महेश्वर में फसलों का निरीक्षण किया गया। कृषक श्री श्रीकृष्ण अर्जुन बाबू के खेत पर देशी कपास बराड़ी के अवलोकन में बताया गया कि फसल की बुआई गत वर्ष जून को डेढ़ हेक्टेयर में की। प्रथम बहार में 70 क्विं., द्वितीय बहार में 44 क्विं. एवं तृतीय बहार में 11 क्विं. इस प्रकार कुल 125 क्विं. उत्पादन लिया जा चुका है तथा पुन: फसल को जड़ी के रूप में लेकर वर्तमान में प्रति पौधा 50 से 60 डेंडू लगा होना पाया गया। कृषक ने यूरिया 11 बेग (तीन बार में), सुपरफास्फेट 11 बेग (दो बार में), इफको 8 बेग (दो बार में), डीएपी 3 बेग (एक बार में) तथा संपूर्ण फसलकाल के दौरान कुल दो बार पौध संरक्षण दवाई का स्प्रे किया।
इस प्रकार श्री कृष्ण ने देशी किस्म से कम लागत में 83 क्विं. प्रति हेक्टेयर उत्पादन लिया। भ्रमण में अनुविभागीय अधिकारी श्री मानसिंह ठाकुर भी उपस्थित थे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.