असत्य जानकारी के लिए कंपनी को ब्लैक लिस्ट किया

Share

किसान कॉल सेंटर

(नई दिल्ली कार्यालय)
नई दिल्ली। भारत सरकार के कृषि मंत्रालय ने किसान कॉल सेंटर चलाने के लिए टेंडर डालने वाली कंपनी केअरटेल इन्फोटेक को भ्रामक एवं असत्य जानकारी देने के कारण ब्लैक लिस्ट कर दिया है। गत वर्ष किसान कॉल सेंटर के लिए हुए त्रिस्तरीय टेंडर में दिल्ली की केअरटेक इन्फोटेक लि. ने टेंडर हासिल करने के लिए 9 राज्यों के 11 स्थानों पर कॉल सेंटर की उपलब्धता दर्शाई।
परन्तु गत अगस्त में मंत्रालय को प्राप्त शिकायती ईमेल आधार पर टेंडर में दी गई जानकारी की सत्यता जांचने के लिए कृषि मंत्रालय ने विस्तार निदेशालय के अधिकारियों को भेजा। जांच दल ने 4 स्थानों जबलपुर, जयपुर, हैदराबाद, अहमदाबाद के बताए गए केन्द्रों की जांच की। जबलपुर में दिए गए पते पर केअरटेल इन्फोटेक का कोई कॉल सेंटर नहीं मिला। वहां पर आधार का पंजीयन केन्द्र किसी एनजीओ के नाम पर चल रहा था।
अहमदाबाद के पते पर एक ट्रेवल एजेंसी अपना दफ्तर चला रही थी। वहीं हैदराबाद के पते पर कोई साईन बोर्ड भी नदारद था। केवल कुछ बंद कंप्यूटर और टेलीफोन सेट रखे थे।
कृषि मंत्रालय ने जांच दल की रिपोर्ट के आधार पर कंपनी को कारण बताओ नोटिस दिया। पर असंतोषजनक जवाब प्राप्त होने से विभाग द्वारा उक्त कंपनी को दो वर्ष के लिए काली सूची में डाल दिया गया।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.