धार जिले की महिला किसानों ने सीखी आधुनिक तकनीक

Share

धार। कृषि विस्तार सुधार कार्यक्रम के आत्मा ‘मापवा’ योजना के अंतर्गत यहां से 30 महिला कृषकों को अंतर जिला अध्ययन भ्रमण कराया गया। यहां की महिलाओं ने कृषि विज्ञान केंद्र कस्तूरबाग्राम, इंदौर, राष्ट्रीय सोयाबीन अनुसंधान केंद्र, इंदौर, इंदौर कृषि महाविद्यालय प्रक्षेत्र फार्म, क्षेत्रीय गेहूं अनुसंधान केंद्र जाकर विशेषज्ञों से कृषि क्षेत्र में प्रयोग लाई जा रही आधुनिक तकनीकों को सीखा।
सोयाबीन अनुसंधान केंद्र में महिलाओं को श्री वर्मा ने सोयाबीन के विभिन्न उत्पादों, उपयोगों की जानकारी प्रदान की। वहीं, कृषि महाविद्यालय के प्रक्षेत्र कार्यालय के प्रभारी श्री एस. मुजाल्दे ने गोबर से खाद बनाने की नाडेप विधि, इंदौर विधि, पशुपालन, पशु घास जैसे अफ्रीकन चरी, सी-4 चरी उत्पादन आदि की जानकारी दी। दल प्रभारी विकासखंड तकनीकी प्रबंधन आत्मा श्री मोहनलाल पाटीदार ने महिला कृषकों को उन्नत उत्पादन तकनीकों से अवगत कराते हुए बताया कि महिलाएं समूह का निर्माण कर, कृषि में भागीदारी बढ़ाकर खेती को लाभ का व्यवसाय बना सकती हैं। समूह के साथ श्री अनिल राठौर (मुलथान) एवं प्रगतिशील कृषक श्री बालमुकुंद पाटीदार (दत्तीगारा) भी थे। खेड़ी की महिला कृषक श्रीमती उमा पाटीदार एवं दत्तीगारा की श्रीमती सौरम पाटीदार ने कृषक जगत से चर्चा में कहा किसानों द्वारा उत्पादित फसलों की उचित कीमत मिलना चाहिए। उन्होंने कहा ऐसे भ्रमण कार्यक्रमों से हमें बहुत कुछ सीखने को मिलता है।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.