आईआईएल फाउंडेशन करेगा एक लाख किसानों को प्रशिक्षित

Share this

भोपाल। कृषि रसायन उत्पादक कंपनी इंसेक्टिसाइड्स (इंडिया) लिमिटेड ने किसानों की मदद के लिये आईआईएल फाउंडेशन के तहत देशव्यापी अभियान की शुरुआत मध्यप्रदेश के एक लाख से अधिक किसानों के प्रशिक्षण एवं जागरूकता अभियान से की है। यह अभियान उनकी कृषि प्रणाली में सुधार लाने में मदद करने तथा फसल सुरक्षा के प्रभावी समाधानों के बारे में जानकारी देने के लिये चलाया गया है।
किसानों का उत्पादन और आय बढ़ाने में मदद करने वाली कृषि प्रणालियों को बढ़ावा देने के लिये आईआईएल फाउंडेशन कई तरह की मुहिम चलाती है। इसी मुहिम के तहत सोयाबीन उत्पादकों के लिये एक वृहद राज्यव्यापी अभियान शुरू किया है जिसमें लगभग 350 गांवों के एक लाख से अधिक किसानों को शामिल किया जाएगा। यह मुहिम पूरे राज्य में किसानों की विशाल सभाओं एवं कार्यशालाओं के आयोजन के जरिये चलाई जाएगी। इंसेक्टिसाइड्स इंडिया लिमिटेड के उपाध्यक्ष श्री पी.सी. पब्बी ने कहा किसानों की दक्षता बढ़ाने के लिये आयोजित हमारे कार्यक्रम का मकसद भारतीय किसानों को खेती में सुधार लाने के लिये प्रभावी फसल सुरक्षा समाधानों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करना है। हमने फसल चक्र में मूंग की खेती को बढ़ावा देने के लिये एक मुहिम चलाई है और हम किसानों को इसके फायदे गिना रहे हैं।
इसे अपनाने से मिट्टी की खोई पोषकता वापस आती है और मिट्टी की उर्वराशक्ति भी बढ़ जाती है। इसके लिये बहुत ज्यादा निवेश की जरूरत नहीं पड़ती और इन दिनों मूंग का न्यूनतम समर्थन मूल्य भी अच्छा है जिस कारण किसानों को प्रति एकड़ 30 से 40 हजार रुपये की अतिरिक्त आय हो जाती है। यदि इसकी पत्तियों को खेत में ही छोड़कर हल चलाया जाए तो मिट्टी को हरी खाद भी मिल जाती है।
किसानों के लिये मूंग की फसल लगाने का एक और फायदा इसके कम अवधि में ही तैयार हो जाने का है। कम अवधि में ही फसल पक जाने के कारण किसानों को इसी दौरान दूसरी फसल बोने का भी पर्याप्त समय मिल जाता है। इस प्रकार किसानों को अच्छा-खासा आर्थिक लाभ मिल जाता है। विकास विभाग के प्रमुख श्री संजय सिंह ने कहा, हम इस मुहिम को पूरे भारत में शुरू करने जा रहे हैं और इस पर पूरी तत्परता से काम कर रहे हैं। कृषि वैज्ञानिकों और विभिन्न विश्वविद्यालयों के कृषि विशेषज्ञों के साथ आईआईएल फाउंडेशन किसानों को प्रगतिशील खेती का प्रशिक्षण देने के लिये मिलकर काम करेगी। भोपाल में इस अभियान के लांचिंग कार्यक्रम में मध्यप्रदेश में कंपनी के प्रमुख श्री ओ.पी. सोनी भी थे।

Share this
Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।