1500 करोड़ के कार्यों से बूंदी जिले के हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र के विकास को लगेंगे पंख

Share
सूचना एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री –

29 जुलाई 2022, जयपुर: 1500 करोड़ के कार्यों से बूंदी जिले के हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र के विकास को लगेंगे पंख – मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के बूंदी जिले के हिण्डोली दौरे को लेकर हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र के ग्रामीणों में जोरदार उत्साह दिखने को मिल रहा है। गांव के बडे़ बुजुर्ग और युवा गांव-गांव में ग्रामीणों की बैठकों का दौर जारी हैं। आजादी के बाद पहली बार हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र में होने वाले 1500 करोड़ विकास कार्यों के शिलान्यास समारोह में सभी अपनी मौजूदगी कराने को लेकर उत्साह से भरे हुए हैं। हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र में आमजन विकास के साक्षी बनने के लिए आतुर हैं।

राज्यमंत्री श्री चांदना द्वारा हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र में कराए जा रहे विकास कार्यों को लेकर भी ग्रामीण उत्साह से भरे हुए हैं। ग्रामीणों के अनुसार खेल राज्यमंत्री के प्रयासों से आजादी के बाद क्षेत्र में इतनी बड़ी संख्या में विकास कार्यों से उनका जीवन स्तर उंचा उठेगा।    

इसी कड़ी में युवा मामले, खेल तथा सूचना एवं जनसंपर्क राज्यमंत्री श्री अशोक चांदना ने हिण्डोली क्षेत्र के धनावा, चेता, दबलाना आदि गांवों को दौरा कर ग्रामीणों से विकास कार्यों पर चर्चा की। श्री चांदना ने कहा कि 30 जुलाई को हिण्डोली में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री हिण्डोली-नैनवां की जनता को 1500 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात देंगे। इन कार्यों से क्षेत्र के विकास का पंख लगने लगे हैं। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहलीबार क्षेत्र को मिल रही सौगातों से हिण्डोली-नैनवां में विकास के नए आयाम स्थापित होंगे। राजस्थान में हिण्डोली पहली ऐसी तहसील होगी, जहां मेडीकल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज, कृषि महाविद्यालय, राजकीय महाविद्यालय और आईटीआई कॉलेज होंगे।

उन्होंने कहा कि एक हजार करोड़ की चम्बल पेयजल परियोजना से क्षेत्र के आमजन की पेयजल समस्या का स्थाई समाधान होगा। हर घर तक नल कनेक्शनों से शुद्ध पेयजल उपलब्ध होगा। उन्होंने कहा कि हिण्डोली-नैनवंा क्षेत्र में बडे़ स्तर पर सडकों का जाल बिछाया जा रहा है।  

उन्होंने कहा कि क्षेत्र में सर्दी के मौसम में किसानों को दिन में बिजली आपूर्ति की जा रही है, इससे किसानों को काफी राहत मिली है। हिण्डोली-नैनवां क्षेत्र में बड़ी संख्या में मिनी डेम बनाए जा रहे है, इससे सिंचाई और पेयजल के पानी का भी इंतजाम हो रहा है। उन्होंने कहा कि युवाओं को शिक्षा के बेहतर अवसर मिले, इसके मद्देनजर पहली बार एक साथ पांच कॉलेजों का शिलान्यास होने जा रहा है।

इस दौरान स्थानीय जनप्रतिनिधि संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

महत्वपूर्ण खबर: सिंचाई उपकरण हेतु 27 जुलाई से 4 अगस्त तक आवेदन पत्र आमंत्रित

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.