लम्पी स्किन से पीड़ित पशुओं वाले जिलों में पहले लगेगी  वैक्सीन- केंद्रीय पशुपालन मंत्री

Share

17 अगस्त 2022, चंडीगढ़ । लम्पी स्किन से पीड़ित पशुओं वाले जिलों में पहले लगेगी  वैक्सीन- केंद्रीय पशुपालन मंत्री केंद्रीय पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला ने कहा कि जिन जिलों में लम्पी स्किन बीमारी से पीड़ित पशु हैं, उन जिलों में सबसे पहले वैक्सीनेशन करवाया जाए , ताकि दूसरे जिलों में इस बीमारी का फैलाव रोका जा सके। इस बीमारी से पीड़ित पशुओं को आइसोलेट करके जमीनी स्तर पर प्रयास करने की जरुरत है। तभी अन्य पशुओं को भी इस बीमारी से सुरक्षित रखा जा सकता है। केंद्रीय पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला ने यह बात मंगलवार को चंडीगढ़ स्थित हरियाणा निवास में पशुपालन एवं डेयरी विभाग के अधिकारियों की बैठक के दौरान कही। इस मौके पर हरियाणा के पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री जे.पी. दलाल भी मौजूद रहे।

श्री पुरुषोत्तम रूपाला ने कहा कि अभी हरियाणा के 8 जिले इस गंभीर बीमारी से बचे हुए हैं, जहां अभी तक कोई भी केस दर्ज नहीं किया गया है।  इसके अलावा जिन जिलों में इस बीमारी का प्रभाव है, उन जिलों के पशुओं को केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार लम्पी स्किन वैक्सीनेशन किया जाए।

श्री पुरुषोत्तम रूपाला ने कहा कि राज्य सरकार को इस बीमारी की रोकथान के लिए कुछ और जरुरी कदम उठाने चाहिए। इसमें सबसे पहले एक जिले से दूसरे जिले में पशुओं की आवाजाही को रोकना चाहिए। विशेषकर जिन जिलों में फिलहाल इस बीमारी का ज्यादा प्रकोप है, वहां इस तरह की एहतियात बरतनी चाहिए। इस बीमारी के संबंध में ज्यादा से ज्यादा पशुपालकों को जागरूक करना चाहिए। इसके अतिरिक्त दुग्ध उपभोक्ताओं को यह ध्यान रखना चाहिए कि पशु का दूध उबालकर पीएं।

हरियाणा के पशुपालन एवं डेयरी मंत्री श्री जे.पी.दलाल ने केंद्रीय मंत्री को आश्वासन दिया कि हरियाणा सरकार लम्पी स्किन बीमारी को लेकर बेहद संजीदा तरीके से कार्य कर रही है। प्रभावित जिलों के पशुपालकों को लगातार जागरूक किया जा रहा है। इस बीमारी से जुड़ी वैक्सीन को जल्द ही सभी जिलों में पहुंचा दिया जाएगा। श्री दलाल ने कहा कि वैक्सीनेशन कार्यक्रम अगले कुछ दिनों में शुरू हो जाएगा।  केंद्र सरकार के वैज्ञानिकों व हरियाणा सरकार के वैज्ञानिकों की मदद से लगातार इसकी रोकथाम को लेकर योजना तैयार की जा रही है। श्री दलाल ने अधिकारियों को हर दिन प्रत्येक जिले के प्रत्येक गांव में लम्पी स्किन बीमारी से प्रभावित पशुओं का डाटा लगातार अपडेट करने के निर्देश दिए हैं।

इस मौके पर विधायक श्री रणधीर गोलन, गो सेवा आयोग के चेयरमैन श्री श्रवण कुमार गर्ग, भारत सरकार के पशुपालन एवं डेयरी विभाग के सहायक आयुक्त श्री प्रवीन मलिक, हरियाणा सरकार के पशुपालन एवं डेयरी विभाग के आयुक्त एवं सचिव श्री पंकज यादव मौजूद रहे।

महत्वपूर्ण खबर:मध्यप्रदेश में वर्षा का दौर जारी, भावगढ़ में 180 मिमी वर्षा हुई

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.