विदिशा जिले में बाढ़ से हुए नुकसान का सर्वे होगा

Share

27 अगस्त 2022, विदिशा  विदिशा जिले में बाढ़ से हुए नुकसान का सर्वे होगा – विगत दिनों अतिवृष्टि, बाढ़ एवं बेतवा नदी में बढ़े जलस्तर से विदिशा जिले के विभिन्न ग्राम बाढ़ प्रभावित हुए हैं। आमजनों की समस्याओं से अवगत होने एवं बाढ़ से हुई क्षति का सर्वे कराकर शीघ्र सहायता उपलब्ध कराए जाने का आश्वासन शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्रप्रतापसिंह एवं कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने संयुक्त रूप से भ्रमण कर  जायजा लेने के दौरान ग्रामीणों को दिया है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला एवं एसडीएम समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहे।

शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्रप्रताप सिंह , कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने संयुक्त रूप से शमशाबाद तहसील के ग्राम सतपाड़ा सराय पहुंचकर ग्रामीणों से संवाद स्थापित किया। बाढ़ से प्रभावित ग्रामीणों ने बाढ़ से हुए नुकसान के मुआवजे की बात रखी। कलेक्टर श्री भार्गव ने बाढ़ प्रभावितों को आश्वस्त कराया कि शीघ्र ही बाढ़ प्रभावितों को हर संभव मदद दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि बाढ़ के कारण जिनके मकानों की क्षति हुई सर्वे कराकर राहत राशि प्रदाय की जाएगी।

शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्र प्रतापसिंह, कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, पुलिस अधीक्षक डॉ मोनिका शुक्ला के द्वारा ग्राम बेरखेड़ी घाट, ग्राम पमारिया, ग्राम जोहद सहित अन्य ग्रामों में पहुंचकर बाढ़ पीड़ितों से संवाद कर उनकी समस्याओं को सुना ही नहीं बल्कि शीघ्र अतिशीघ्र निराकृत कराने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने बाढ़ पीड़ितों से संवाद के दौरान कहा कि जब तक उनके रहने का आश्रय ठीक नहीं हो जाता है तब तक वे राहत शिविरों में रहें। उन सबको इन शिविरों में निशुल्क भोजन समेत अन्य बुनियादी आवश्यकताओं की पूर्ति सुनिश्चित कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक बाढ़ पीड़ित परिवार को आरबीसी 6 (4) के प्रावधानों के तहत 50-50 किलो अनाज उसी उचित मूल्य की दुकान से निशुल्क प्रदाय किया जाएगा जिस दुकान से अनाज प्राप्त किया करते थे।

कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने वन-टू-वन विभिन्न ग्रामों का दौरा कर बाढ़ से हुए नुकसान की जानकारी प्राप्त की है।  ग्राम खेजड़ा में बाढ़ पीड़ित श्री कुंजीलाल अहिरवार की अश्रूपूर्ण आंखो देखकर कलेक्टर श्री भार्गव ने गले लगाकर आश्वस्त कराया कि संकट की इस घड़ी में शासन प्रशासन उन्हें परेशान नहीं होने देगा, कलेक्टर ने मौके पर ही तत्काल सहायता दिलाए जाने के प्रबंध सुनिश्चित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण करने के दौरान नटेरन विकासखण्ड में श्रीमती गौराबाई कुशवाह से शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्र प्रतापसिंह, कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने संवाद कर गौराबाई की पीड़ा से व्यथित हुए, साथ ही  50 किलो गेहूं दिलाने के साथ-साथ मकान क्षति का प्रकरण दर्ज कर तत्काल सहायता राशि दिलाए जाने के लिए संबंधित एसडीएम को निर्देश दिए हैं।

महत्वपूर्ण खबर:मंदसौर के मल्हारगढ़ में लहसुन की बड़ी आवक से कीमतों में गिरावट

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.