17-18 मई को होने वाली वार्षिक समूह  बैठक की रूपरेखा तय

Share

16 मई 2022,  इंदौर । 17-18 मई को होने वाली वार्षिक समूह बैठक की रूपरेखा तय – भा.कृ.अनु.प.-भारतीय सोयाबीन अनुसन्धान संस्थान द्वारा सोपा ऑडिटोरियम, मालवीय नगर इंदौर में  17 एवं 18 मई 2022 को अखिल भारतीय समन्वित सोयाबीन अनुसन्धान परियोजना की वार्षिक समूह बैठक आयोजित की गई है।  इस बैठक में लगभग 150 सोयाबीन वैज्ञानिक, प्रजनक, कृषि विभाग के अधिकारी तथा भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद के शीर्ष अधिकारी भाग लेंगे। उक्त जानकारी भारतीय सोयाबीन अनुसन्धान संस्थान, इंदौर  द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में दी गई।

उल्लेखनीय है कि  इस परियोजना के अंतर्गत देश के विभिन्न क्षेत्रों /राज्यों समेत सम्पूर्ण देश में स्थापित केन्द्रों के माध्यम से विगत वर्ष किए  गए अनुसन्धान कार्यों के निष्कर्षों की समीक्षा एवं आगामी वर्ष किए  जाने वाले प्रस्तावित अनुसन्धान कार्यक्रमों के नियोजन किया जाएगा। बैठक में प्रमुख रूप से भारतीय कृषि अनुसन्धान परिषद के मुख्यालय से उपमहानिदेशक (फसल विज्ञान) डॉ तिलक राज शर्मा, सहायक महानिदेशक (तिलहन एवं दलहन) डॉ. संजीव गुप्ता, सहित सोयाबीन फसल से जुड़े कई जाने-माने वैज्ञानिक विभिन्न तकनीकी सत्रों की अध्यक्षता कर सोयाबीन अनुसन्धान कार्यक्रमों को सुदृढ़ बनाने हेतु मार्गदर्शन देंगे।

इस वार्षिक बैठक में अनुसन्धान कार्यक्रमों की समीक्षा एवं आगामी वर्ष के लिए तकनीकी  कार्यक्रम के निर्धारित लक्ष्यों के नियोजन के अलावा भारतवर्ष के लिए वर्तमान में प्रचलित सोयाबीन की नवीनतम एवं प्रचलित किस्मों के बीज उत्पादन कार्यक्रम के लिए भी लक्ष्यों का निर्धारण किया जायेगा।  इसमें मध्य क्षेत्र समेत सम्पूर्ण देश के लिए कई सोयाबीन की किस्मों की अनुशंसा किए जाने की सम्भावना है।  इसके लिए विशेष रूप से गठित किस्म पहचान समिति की बैठक भी  17 मई को प्रस्तावित है , जिसमें  देश भर के सोयाबीन प्रजनकों से प्राप्त सोयाबीन किस्मों की पहचान एवं क्षेत्रवार अनुशंसा हेतु प्राप्त प्रस्तावों पर चर्चा उपरांत अधिसूचना हेतु अनुशंसा की जाएगी। 

 

महत्वपूर्ण खबर: ब्रीडर सीड के दामों में 10 प्रतिशत तक की बढ़ौत्री

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.