मध्य प्रदेश के किसानों के साथ न्याय करेगी राज्य सरकार- मंत्री श्री पटेल

Share this

मध्य प्रदेश के किसानों के साथ न्याय करेगी राज्य सरकार- मंत्री श्री पटेल

हितग्राही किसानों के खातों में जल्दी पहुँचे भुगतान की राशि : मंत्री श्री राजपूत

भोपाल| खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण तथा सहकारिता मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत और कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने मंत्रालय में रबी फसल उपार्जन की समीक्षा की। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि यह सरकार किसानों की सरकार है। किसानों के साथ किसी भी प्रकार का अन्याय नहीं होगा। उन्होंने कहा कि उपार्जन में जो भी कमियाँ नजर आ रही हैं, उन्हें शीघ्र ही दूर किया जाये। मंत्री श्री राजपूत ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसानों के खातों में फसल भुगतान की राशि यथासमय शीघ्रता से पहुँचाई जाये।

मंत्री श्री पटेल ने उपार्जन में छोटे किसानों को प्राथमिकता देने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि छोटे किसानों को पहले एसएमएस भेजकर उपार्जन सुनिश्चित करें। उपार्जन के दौरान फसल की तुलवाई दो बार नहीं की जाये। तुलवाई में धर्म काँटे की अनुपलब्धता की स्थिति में फ्लैट काँटे का ही उपयोग करें। तुलाई के समय किसान, खरीददार एजेंसी एवं भण्डार-गृह का मालिक एक ही स्थान पर उपस्थित रहें, जिससे दो बार तुलवाने की आवश्यकता न पड़े।

प्रमुख सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्री शिव शेखर शुक्ला ने बताया कि इस वर्ष सौ लाख मीट्रिक टन से अधिक रबी उपार्जन का ऐतिहासिक लक्ष्य रखा गया है। विगत दस दिनों में लगभग 20 लाख मीट्रिक टन का उपार्जन कर लिया गया है।

हरदा में तौल-काँटों की जाँच के निर्देश
मंत्री की कमल पटेल के निर्देश पर हरदा जिले में समस्त तौल-काँटों की जाँच के निर्देश प्रमुख सचिव श्री शुक्ला ने जारी किये हैं। उन्होंने कहा कि समितियाँ बनाकर कल से ही तौल-काँटों की जाँच की कार्यवाही प्रारंभ कर दी जायेगी।

चना, मसूर, सरसों का उपार्जन 29 अप्रैल से
मंत्री श्री पटेल ने 29 अप्रैल से प्रारंभ होने वाले चना, मसूर एवं सरसों के उपार्जन के पुख्ता प्रबंध करने के निर्देश दिये। उपार्जन के लिये इस वर्ष 896 केन्द्र बनाये गये हैं। इस वर्ष 120 केन्द्र अधिक बनाये गये हैं। पिछले वर्ष चना, मसूर, सरसों के उपार्जन के लिये 776 उपार्जन केन्द्र बनाये गये थे। बैठक में प्रमुख सचिव कृषि श्री अजीत केसरी ने बारदानों की उपलब्धता के अनुसार उपार्जन प्रारंभ करने के निर्देश दिये।

किसानों के खाते में समय से पहुँचे राशि
मंत्री श्री राजपूत ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसानों के खाते में राशि तत्परता पूर्वक जमा कराई जाये। महाप्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम श्री अभिजीत अग्रवाल ने बताया कि मार्कफेड और नागरिक आपूर्ति निगम द्वारा अब तक 565 करोड़ की राशि किसानों के खातों में अंतरित कर दी गई है।

चना उपार्जन में भुगतान न होने पर जाँच समिति गठित
मंत्री श्री पटेल ने हरदा जिले के गोदाम-स्तरीय उपार्जन केन्द्र चोकरी एवं धनवाड़ा में वर्ष 2019-20 में किये गये चना उपार्जन की राशि किसानों को देने और भुगतान नहीं होने के लिये जिम्मेदार अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही के निर्देश दिये। प्रमुख सचिव श्री शुक्ला ने बताया कि भुगतान नहीं होने के कारणों की पड़ताल के लिये तीन सदस्यीय जाँच समिति का गठन कर दिया गया है। समिति के अध्यक्ष नागरिक आपूर्ति निगम के महाप्रबंधक श्री के.के. श्रीवास्तव हैं। समिति में उपायुक्त सहकारिता श्री अरुण मिश्रा और उप महाप्रबंधक राज्य भण्डार गृह निगम श्री यशवंत सिंह तडवला हैं।

उपार्जन की बेहतर कार्यवाही के लिये बधाई
बैठक में बताया गया कि मध्यप्रदेश, देश में बेहतर उपार्जन करते हुए दूसरे स्थान पर है। मंत्रीद्वय ने बेहतर उपार्जन व्यवस्था के लिये अधिकारियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि जहाँ कमियाँ हैं, उन्हें शीघ्र ही दूर कर व्यवस्था को और अधिक बेहतर बनाया जाये।

बैठक में प्रमुख सचिव सहकारिता श्री उमाकांत उमराव, संचालक खाद्य श्री अविनाश लवानिया एवं महाप्रबंधक मार्कफेड श्री श्रीमन शुक्ला उपस्थित रहे।

Share this
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *