राज्य कृषि समाचार (State News)

दक्षिण – पश्चिम मानसून का केरल में प्रवेश

Share

मध्यप्रदेश में लू और वर्षा का मिलाजुला दौर

30 मई 2024, इंदौर: दक्षिण -पश्चिम मानसून का केरल में प्रवेश – मौसम केंद्र , भोपाल से मिली जानकारी के अनुसार   पिछले 24 घंटों के दौरान  मध्यप्रदेश  के चंबल, रीवा, जबलपुर, शहडोल, सागर संभागों के जिलों में  कहीं -कहीं वर्षा दर्ज़ की गई एवं शेष सभी संभागों के जिलों में  मौसम  मुख्यतः  शुष्क रहा। रीवा, सतना, सीधी, शहडोल, नौगाँव (छतरपुर), टीकमगढ़, दमोह,दतिया ,ग्वालियर , शिवपुरी में  लू का  प्रभाव  रहा । खजुराहो (छतरपुर), निवाड़ी तीव्र लू का प्रभाव  रहा । टीकमगढ़, दमोह,  दतिया  एवं ग्वालियर में  गरम रात रही ।  

मौसम – आज 30 मई 2024 को  दक्षिण -पश्चिम  मानसून केरल  में  प्रवेश कर चुका है। साथ ही  नागालैंड ,  मणिपुर , मिजोरम , अरुणाचल  प्रदेश  के पूरे  क्षेत्रों में  तथा त्रिपुरा , मेघालय और असम के  अधिकांश  क्षेत्रों सहित पूर्वोत्तर भारत भारत के  अधिकांश हिस्सों तक पहुँच चुका है। साथ ही चक्रवातीय परिसंचरण  पश्चिमोत्तर  उत्तर प्रदेश के ऊपर सक्रिय है।  

पूर्वानुमान – मौसम केंद्र के अनुसार राजगढ़, गुना,  दतिया , भिंड , मुरैना, सिंगरौली , सीधी,सतना, छतरपुर,  पन्ना , निवाड़ी ,  मैहर , दमोह, टीकमगढ़, खरगोन  जिलों में कहीं -कहीं  लू चलेगी और रात गरम रहेगी। जबकि रीवा, मउगंज,अशोकनगर, शिवपुरी , ग्वालियर , अनुपपुर, डिंडोरी , शहडोल, छिंदवाड़ा , सिवनी , मंडला, बालाघाट, सागर, पांढुर्ना , विदिशा , श्योपुरकलां जिलों में वज्रपात के साथ 30 -40  किमी /घंटे की रफ्तार से झोंकेदार हवाएं चलने और कहीं -कहीं हल्की वर्षा होने का अनुमान है।  

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

Share
Advertisements