राज्य कृषि समाचार (State News)

राज्य पशु ऊंट के संरक्षण के लिए संकल्पित है राजस्थान सरकार : श्री कटारिया

Share
ऊंट पालकों को 2 किस्तों में 5000-5000 रुपए की दी जाएगी प्रोत्साहन राशि, ऊंट संरक्षण योजना के आवेदन हेतु बनाये गये इंटीगे्रटेड वेब एप्लीकेशन का लोकार्पण

19 फरवरी 2023,  जयपुर ।  राज्य पशु ऊंट के संरक्षण के लिए संकल्पित है राजस्थान सरकार : श्री कटारिया  पशुपालन मंत्री श्री लालचंद कटारिया ने कहा कि ‘उष्ट्र संरक्षण योजना’ राज्य पशु ऊंट के संवर्धन के लिए राज्य सरकार द्वारा लागू एक बेहतरीन योजना है। उन्होंने कहा कि राज्य की अर्थव्यवस्था में कृषि एवं पशुपालन का सर्वाधिक योगदान है। श्री कटारिया गुरूवार को पंत कृषि भवन में ऊंट संरक्षण योजना के आवेदन हेतु बनाये गये इंटीगे्रटेड वेब एप्लीकेशन के लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता कर रहे थे । उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के सार्थक प्रयासों एवं दूरदर्शिता के परिणामस्वरूप आज राजस्थान आर्थिक विकास दर में देश के अग्रणी प्रदेशों में शामिल हो गया है। श्री कटारिया ने कहा कि मुख्यमंत्री सदैव ही अन्य वर्गों के साथ पशुपालकों एवं किसानों को प्राथमिकता देते आये है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने ऊंटों की घटती संख्या को गंभीरता से लेते हुए ऊंट संरक्षण योजना की घोषणा पिछले बजट में की थी। जिसके अंतर्गत ऊंट प्रजनन को प्रोत्साहित करने के लिए टोडियों के जन्म के अवसर पर 5000-5000 रूपए की प्रोत्साहन राशि दो किश्तों में पशुपालक को दी जाएगी।

इस मौके पर पशुपालन विभाग के शासन सचिव श्री कृष्ण कुणाल ने ऊंट संरक्षण योजना एवं वेब एप्लीकेशन की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि इस एप्लीकेशन में ऊंट पालक का पंजीयन, पशु चिकित्सक द्वारा ऊंटनी व टोडिये की टेगिंग तथा जिला स्तरीय वित्तीय स्वीकृति का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि ऊंट पालक 1 नवंबर या उसके पश्चात् जन्मे टोडियों का योजना के अंतर्गत 28 फरवरी तक पंजीयन करवा सकते है। 2 माह तक के टोडिये के ऊंटपालक योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे। यह पंजीयन ऑनलाइन एप्लीकेशन के माध्यम से किया जा सकेगा व किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर ऊंट पालक नजदीकी ई मित्र व पशु चिकित्सा केंद्र के अधिकारियों से मदद ले सकते है।

इस मौके पर कृषि विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री दिनेश कुमार, कृषि आयुक्त श्री कानाराम, सहित पशुपालन व कृषि विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

महत्वपूर्ण खबर: राजस्थान में किसानों को सोलर पंप पर 60 प्रतिशत तक का अनुदान

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *