राज्य कृषि समाचार (State News)

निमाड़ में  मिर्च फसल की तैयारी, करीब दो लाख पौधे रोपे

Share

25 मई 2024, इंदौर: निमाड़ में  मिर्च फसल की तैयारी, करीब दो लाख पौधे रोपे – निमाड़ की प्रमुख खरीफ फसलों में कपास के बाद मिर्च का ही नाम लिया जाता है। कुछ साल पहले मिर्च फसल में वाइरस लगने के कारण मिर्च फसल का उत्पादन नहीं  मिला तो किसानों ने मिर्च की फसल से किनारा कर लिया था, लेकिन अब फिर मिर्च फसल की ओर रुझान बढ़ने लगा है। इसी कड़ी में खरगोन जिले के सनावद के पास स्थित ग्राम बोरुद के किसान श्री प्रवीण पटेल ने आगामी खरीफ सत्र में मिर्च की फसल लेने के लिए 1.80  लाख पौधे लगाए हैं। साथ में सोयाबीन भी लगाएंगे , ताकि मिर्च के भाव कम मिलने पर सोयाबीन से भरपाई हो सके।

श्री पटेल ने कृषक जगत को बताया कि आगामी खरीफ सत्र में मिर्च का उत्पादन लेने के लिए गत 1 मई को मिर्च किस्म शार्क -1 के 1.80 लाख पौधे तैयार करना शुरू किया था। पौधों की बढ़वार हो रही है। 10 -15  जून के बीच इनकी खेत में ट्रांसप्लांटिंग की जाएगी। यह सारे पौधे स्वयं के लिए ही तैयार किए हैं , हालांकि क्षेत्र के कई किसान मिर्च पौधों की नर्सरी तैयार कर पौधे बेचते भी हैं।

श्री पटेल  ने बताया कि एक एकड़ ज़मीन में करीब 8 -9 हज़ार पौधे लगते हैं। करीब 15 एकड़ के लिए पौधे तैयार किए गए हैं। इस साल मिर्च के औसत भाव 150 रु /क्विंटल रहे ,जबकि गत वर्ष  230 रु तक का भाव मिला था। नए सत्र में  मिर्च के दाम कम  मिलने की आशंका को देखते हुए, इस वर्ष शेष ज़मीन में सोयाबीन लगाएंगे, ताकि नुकसानी की भरपाई सोयाबीन फसल से हो सके। अगले वर्ष तो पूरे रकबे में मिर्च की फसल ही लेंगे। उत्पादित मिर्च को बेड़िया मंडी में बेचा जाता है।

(कृषक जगत अखबार की सदस्यता लेने के लिए यहां क्लिक करें – घर बैठे विस्तृत कृषि पद्धतियों और नई तकनीक के बारे में पढ़ें)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्रामव्हाट्सएप्प)

Share
Advertisements