कनाडा के सहयोग से हरियाणा में कार्बन क्रेडिट के अंतर्गत इन्क्यूवेशन सेंटर को स्थापित करने हेतू संभावनाओं को तलाशा जाएगा-कृषि मंत्री

Share
इस इन्क्यूबेशन सेंटर के माध्यम से विभिन्न हितधारकों को हरियाली व कार्बन क्रेडिट के बारे में जानकारी, उपयोग व प्रयोग मुहैया करवाने का काम होगा-जे.पी. दलाल

4 अगस्त 2022, चण्डीगढ़: कनाडा के सहयोग से हरियाणा में कार्बन क्रेडिट के अंतर्गत इन्क्यूवेशन सेंटर को स्थापित करने हेतू संभावनाओं को तलाशा जाएगा-कृषि मंत्री – हरियाणा में कार्बन क्रेडिट के अंतर्गत हरियाली बढाने के लिए कनाडा के सहयोग से इन्क्यूवेशन सेंटर स्थापित करने के लिए संभावनाओं को तलाशा जाएगा और इस इन्क्यूबेशन सेंटर के माध्यम से विभिन्न हितधारकों को हरियाली व कार्बन क्रेडिट के बारे में जानकारी, उपयोग व प्रयोग मुहैया करवाने का काम होगा।

यह जानकारी यहां हयात रिजेंसी होटल में हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री जे. पी. दलाल और कनाडा कोनसुल जनरल श्री पैट्रीक हेंबर्ट व कनाडा सरकार के काऊंसलर (कमर्शियल) श्री विक्टर ली के साथ हुई मुलाकात में दी गई।

यह मुलाकात गत दिनों कृषि मंत्री के कनाडा दौरे के दौरान हुई वार्तालाप का फोलो-अप थी। कृषि मंत्री और कनाडा के कोनसुल जनरल पैट्रिक हेबर्ट के बीच हुई मुलाकात के दौरान कौशल विकास, फसल अवशेष के निस्तारण व उनसे बनने वाले उत्पादों तथा कार्बन क्रेडिट जैसे अहम विषयों पर चर्चा व विचार विमर्श किया गया।

इस मुलाकात के दौरान कार्बन क्रेडिट जैसे अहम मुदे पर भी विचार-विमर्श करते हुए बताया गया कि कार्बन क्रेडिट के तहत ग्रीनहाउस उत्सर्जन को कम करने पर बल दिया जाता है और हरियाली को बढाए जाने का काम होता है।

इस दौरान हरियाणा के युवाओं को रोजगारपरक बनाने व उनके कौशल को निखारने के लिए कनाडा के कृषि से संबंधित संस्थानों द्वारा राज्य में विभिन्न कोर्सों को शुरू करने हेतू संभावनाओं को तलाशने के बारे में भी विचार-विमर्श किया गया जिसके तहत कृषि, पशुपालन व बागवानी के क्षेत्र में युवाओं को कुशल बनाने का काम होगा और ऐसे प्रशिक्षित युवा कनाडा में भी रोजगार तलाश सकेंगें।

मुलाकात के दौरान कृषि से होने वाले फसल अवशेषों के निस्तारण व उनसे बनने वाले उत्पादों के बारे में भी व्यापक चर्चा की गई और इस दिशा में आगे बढने के लिए कनाडा व हरियाणा ने अपनी इच्छा भी जताई।

इस मुलाकात के दौरान विभिन्न मुदों पर चर्चा व विचार विमर्श होने के साथ-साथ यह भी बताया गया कि सीआईआई द्वारा आगामी नवंबर में आयोजित किए जाने वाले एग्रीटेक में कनाडा की कृषि से संबंधित कंपनियां भी भाग लेंगी। उल्लेखनीय है कि यह एग्रीटेक चण्डीगढ में हर वर्ष आयोजित किया जाता है।

इस मौके पर पशुपालन एवं डेयरिंग विभाग के आयुक्त एवं सचिव श्री पंकज अग्रवाल, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के महानिदेशक डॉ. हरदीप सिंह, बागवानी विभाग के महानिदेशक अर्जुन सैनी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

महत्वपूर्ण खबर:दूधिया मशरूम से बढ़ेगी किसानों की आमदनी

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.