विश्व में मेवाड़ का अलग ही वर्चस्व- डॉ. राठौड़

Share

20 जनवरी 2022, उदयपुर । विश्व में मेवाड़ का अलग ही वर्चस्व- डॉ. राठौड़ महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के छात्र कल्याण निदेशालय के तत्वावधान में वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की 425वीं पुण्यतिथि पर राजस्थान कृषि महाविद्यालय परिसर स्थित महाराणा प्रताप की भव्य अश्वारूढ़ प्रतिमा के समक्ष पुष्पांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

छात्र कल्याण अधिकारी डॉक्टर मुर्तजा अली सालोदा ने बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एमपीयूएटि के कुलपति डॉक्टर नरेंद्र सिंह राठौड़ ने महाराणा प्रताप की प्रतिमा के समक्ष पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि हमें गर्व है कि हमारे विश्वविद्यालय का नामकरण वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप के नाम पर रखा गया है। उन्होंने उपस्थित उच्चाधिकारियों एवं विद्यार्थियों से आह्वान किया कि हमें महाराणा प्रताप के नामरूप के अनुसार अपने विश्वविद्यालय की गरिमा को बनाना है। उन्होंने कहा कि महाराणा प्रताप के आदर्शों को अपनाकर अपना चरित्र निर्माण करना हमारा उद्देश्य होना चाहिए।उन्होंने विविध पहलुओं से प्रताप की चारित्रिक विशेषताओं को समझाया और बताया कि प्रताप की उर्जस्विता के कारण संपूर्ण विश्व में मेवाड़ का अपना एक अलग ही वर्चस्व है, लोग उदयपुर की धरती को सम्मान से देखते हैं।

डॉ सालोदा ने बताया कि इस अवसर पर कोविड प्रोटोकॉल के मद्देनजर केवल विश्वविद्यालय के उच्च अधिकारी एवं कतिपय राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक छात्र छात्राएं एवं सीमित संख्या में कर्मचारी गण उपस्थित थे सभी ने वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की प्रतिमा के समक्ष पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

महत्वपूर्ण खबर: भेड़ अनुसंधान संस्थान, अविकानगर का हीरक जयंती समारोह

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.