गौ-शालाओं के विकास के लिये समेकित योजना आवश्यक – मंत्री डॉ. मिश्रा

Share

25 मार्च 2022, इंदौर। गौ-शालाओं के विकास के लिये समेकित योजना आवश्यक – मंत्री डॉ. मिश्रा –  गौ-वंश संवर्धन के साथ ही गौ-शालाओं का सर्वसुविधायुक्त विकास भी जरूरी है। गायों के बेहतर संरक्षण के साथ गोबर के समुचित उपयोग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाना चाहिए। यह बात  गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने गुरूवार को मंत्रालय, भोपाल में सड़कों पर विचरण करने वाले पशुओं की बेहतर व्यवस्था और गोवर्धन योजना समिति संबंधी मंत्री समूहों की बैठक को संबोधित करते हुए कही।

 मंत्री समूह की इस बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग, ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, पशुपालन मंत्री श्री प्रेमसिंह पटेल, एमएसएमई मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा और उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह भी उपस्थित थे। गौ-शालाओं के विकास, गौ-संरक्षण और गोबर के समुचित उपयोग पर विस्तार से चर्चा हुई।

अपर मुख्य सचिव पशुपालन श्री जे.एन. कंसोटिया ने गौ-वंश संवर्धन के लिये की जा रही कार्यवाही का प्रस्तुतिकरण दिया। बैठक में गौ-शालाओं की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिये गौ-शालाओं में ही गोबर और गौ-मूत्र से विभिन्न उत्पादों के निर्माण और विपणन की व्यवस्था संबंधी विभिन्न सुझाव दिये गये। मंत्री डॉ. मिश्रा ने सुझावों को कार्यवाही विवरण में सम्मिलित करने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि सुझावों और अनुशंसाओं के आधार पर तैयार किया गया प्रेजेन्टेशन मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

महत्वपूर्ण खबर: मध्यप्रदेश का कनक समान गेहूँ अब विश्व की मंडियों में बिखेरेगा अपनी चमक – मुख्यमंत्री श्री चौहान

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.