आवक घटने से प्याज की कीमतों में उछाल

Share

23 अक्टूबर 2020, इंदौर: इंदौर में नवरात्रि में भी प्याज की अच्छी मांग बनी हुई है ,लेकिन आवक कम होने से प्याज की कीमतों में उछाल आ गया है ।फुटकर में अच्छी किस्म की प्याज ₹70 किलो तक मिल रही है, जबकि  औसत गुणवत्ता वाला प्याज 50 से ₹60 में मिल रहा है।

महत्वपूर्ण खबर: 2020-21 की नई अफीम नीति जारी

बता दें कि नवरात्रि में आमतौर पर व्रत आदि होने से प्याज की मांग कम रहती है ,लेकिन इस बार इन दिनों प्याज की मांग अच्छी बनी हुई है। लेकिन आवक कम होने से तेजी का रुझान दिख रहा है ।उधर , महाराष्ट्र में भी प्याज के दामों में तेजी देखी जा रही है ।वहां बारिश के कारण हुए नुकसान के कारण 1 सप्ताह में प्याज के दाम बढ़कर बढ़कर लगभग दुगने यानी 60 से ₹80 किलो तक पहुंच गए हैं।

इंदौर मंडी में आलू प्याज के एजेंट श्री मनीष पाटीदार (करनावद वाले ) ने कृषक जगत को बताया कि आज प्याज की आवक 45000 कट्टे रही, जबकि कल 75000 कट्टे की रही थी औसत प्याज का भाव 40 से 50 रु किलो और सुपर प्याज 55 से 58 रु किलो है ।महाराष्ट्र से भी आवक कम है ।अभी तो मध्य प्रदेश का प्याज ही आ रहा है ।किसान भी एक साथ सौ डेढ़ सौ कट्टे प्याज ला रहे हैं ,जबकि उन्हें थोड़ा-थोड़ा करके ( 30 से 50 कट्टे)माल निकालना चाहिए क्योंकि नया प्याज देरी से आएगा उनके पास प्याज बेचने के लिए पर्याप्त समय है। इससे लेवालों पर भी दबाव बनेगा और किसानों को भी अच्छा दाम मिलेगा ।अभी तो तेजी का रुझान दिख रहा है यदि आवक कम होती रही तो प्याज ₹100 किलो तक भी जा सकता है।


एक ओर प्याज की कीमतें बढ़ने से उपभोक्ता चिंतित हैं ,वहीं दूसरी ओर केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि प्याज की कीमतों पर सरकार की नजर है, इसे बेकाबू नहीं होने देंगे जरूरत पड़ी तो प्याज का आयात भी करेंगे।

Photo on Visual hunt

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.