फूड प्रोसेसिंग का बनेगा क्लस्टर

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

करनावद में आलू चिप्स बनाने की इकाई शुरू होगी

5 जनवारी 2021, देवासl फूड प्रोसेसिंग का बनेगा क्लस्टरराज्य पोषित योजनान्तर्गत आलू फसल के लिए प्रसंस्करण संबंधी कृषक प्रशिक्षण विधायक श्रीमती गायत्री राजे पंवार और कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला के मुख्य आतिथ्य में गत दिनों देवास में आयोजित किया गया l इस प्रशिक्षण में 250 किसान सम्मिलित हुए l

विधायक श्रीमती पंवार ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए शुरू की गई योजनाओं से किसानों की आर्थिक स्थिति और मज़बूत होगी l आपने किसानों से प्रसंस्करण की विधि को अपनाने का आग्रह कर कहा कि आप अपनी आलू की उपज को सीधे खेत से मंडी में न बेचते हुए प्रसंस्करण करके आलू चिप्स, फ्राइस , डिहाइट्रेट , पाउडर आदि बनाकर बाजार में बेचें l इससे आपकोअच्छी आय प्राप्त हो सकेगी l वहीं प्रशिक्षण के दौरान कलेक्टर श्री शुक्ला ने कहा कि देवास जिला आलू उत्पादन में राज्य में दूसरे नंबर पर है l यहां 9 हज़ार 981 हेक्टेयर क्षेत्र में किसानों द्वारा 1 लाख 97 हज़ार मैट्रिक टन आलू उत्पादित किया जाता है l कलेक्टर ने जानकारी दी कि बागली अनुभाग के करनावद में फूड प्रोसेसिंग का क्लस्टर बनाकर आलू चिप्स बनाने की इकाई आरम्भ की जा रही है , जिससे किसानों की आय दुगुनी होगी l किसानों द्वारा उत्पादित आलू सीधे मंडी में बेचने से अच्छे दाम नहीं मिलते , इसलिए वे आलू का प्रसंस्करण कर अच्छी आय अर्जित करें l

प्रशिक्षण में खाद्य प्रसंस्करण के सलाहकार श्री रामनाथ सूर्यवंशी ने खाद्य प्रसंस्करण उत्पाद की पैकेजिंग, एफएसएसएआई पंजीयन ,मार्केटिंग और निर्यात संबंधी जानकारी दी , वहीं श्री शैलेन्द्र भाटी ने उद्योग स्थापना ,उसके क्रियान्वयन और आलू से ग्रीस बनाने की भी जानकारी दी l उपसंचालक उद्यानिकी श्री नीरज सांवलिया ने कहा कि उद्यानिकी फसलों के लिए शासन द्वारा कई योजनाएं संचालित की जा रही है l आलू एक महत्वपूर्ण फसल है lइसका उपयोग सब्जियों के अलावा हलवा और चिप्स बनाने में किया जाता है l साल में तीन बार ली जाने वाली आलू फसल का औसत उत्पादन 110 क्विंटल /हेक्टेयर होता है , जबकि सतपुड़ा के पठारी क्षेत्रों में 160 क्विंटल /हेक्टेयर होता है l करनावद के किसान श्री मोहनलाल पाटीदार ने भी अपने अनुभव बताए l इस मौके पर श्री फूलसिंह चावड़ा सहित बड़ी संख्या में किसान उपस्थित थे l

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।