हर खेत का सर्वे ईमानदारी के साथ हो

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें

बाढ़ प्रभावित लोगों की हर संभव मदद की जाएगी – मुख्यमंत्री

05 सितंबर 2020, भोपाल। हर खेत का सर्वे ईमानदारी के साथ हो मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने रायसेन तहसील के अनेक गांवों में बाढ़ से प्रभावित फसलों का निरीक्षण लिया। मुख्यमंत्री श्री चौहान किसानों से संवाद करते हुए कहा कि उन्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है, सरकार आपके साथ है। बाढ़ से प्रभावित सभी लोगों की हर संभव सहायता कर उन्हें संकट से बाहर लेकर आएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि एक-एक खेत का सर्वे ईमानदारी और निष्पक्षता के साथ किया जाये, कोई भी प्रभावित सर्वे से न छूटे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मेरी पहली प्राथमिकता थी कि बाढ़ से किसी को जान का नुकसान नहीं हो और हमें इस बात का संतोष है कि इतनी बड़ी बाढ़ में भी हमने किसी व्यक्ति की जान नहीं जाने दी। बाढ़ से प्रभावित लोगों को उनके नुकसान का मुआवजा दिया जाएगा।

महत्वपूर्ण खबर : मौसम आधारित बीमा लापता

सर्वे में कोई गड़बड़ी न हो

मुख्यमंत्री ने जिला-प्रशासन को निर्देश दिए कि सर्वे का काम शीघ्र करें और किसी भी प्रकार की हड़बड़ी न हो इसका भी विशेष ध्यान रखें। उन्होंने कहा कि कोई भी प्रभावित किसान फसलों के सर्वे के बाद राहत और बीमा राशि से वंचित नहीं रहे। सर्वे में पंचायत के 5 सदस्यों को भी रखें जिससे कोई गड़बड़ी न हो । उन्होंने किसानों को आश्वस्त किया कि पूर्व में हुई गड़बड़ी की जांच के साथ इस बार पारदर्शी तरीके से सर्वे होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि रायसेन जिले का कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सोएगा और हजारों की संख्या में शीघ्र ही राशन पर्ची देकर राशन दिया जाएगा।

किसानों को संकट से निकालूँगा

मुख्यमंत्री ने गेैरतगंज विकासखण्ड के सहजपुर के कृषक श्री ओमप्रकाष व श्री नन्हेलाल के खेत पर सोयाबीन एउड़द की प्रभावित फसल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डॉ. स्वप्निल दुबे, वरिष्ठ वैज्ञानिक व प्रमुख, कृषि विज्ञान केन्द्र, रायसेन ने बताया कि सोयाबीन की फसल पहले पीला मोजेक से प्रभावित हूई व बाद में दाना पड़ते व भरते समय गर्डल बीटल व तना मक्खी के प्रकोप से प्रभावित हूई। व सोयाबीन के तने को चीर कर देखने पर अन्दर गर्डल बीटल का लार्वा लगभग पौन इंच का सुरंग बनाता हुआ दिखाई दे रहा है, जिसकी बजह से प्रभावित पौधा भोज्य पदार्थ न बनाने के कारण धीरे-धीरे पीला पड़के व मुर्झा का सूखने लगता है। क्योंकि गर्डल बीटल का लार्वा अन्तिम अवस्था में है इस वजह से अनुषंसित दवाईयों का उचित परिणाम नही मिल पा रहा है।

कृषि उपज मण्डी, गैरतगंज में आयोजित कृषक संवाद के दौरान मुख्यमंत्री श्री षिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कृषकों को फसल बीमा व राहत राषि का लाभ एक साथ दिया जाएगा। पूर्व मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह लगातार बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर किसानों को ढांढस बंधा रहे हैं। मुख्यमंत्री द्वारा क्षेत्र में सर्वे कार्य शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश प्रशासन को दिए गए हैं। बाढ़ प्रभावितों को यथासंभव मदद जरूर दी जाएगी। इस अवसर पर पूर्व मंत्री एवं सिलवानी विधायक श्री रामपाल सिंह, भाजपा के जिला अध्यक्ष श्री जयप्रकाश किरार, कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव, एसपी श्रीमती मोनिका शुक्ला एश्री एन.पी. सुमन, उपसंचालक कृषि भी उपस्थित थी।

व्हाट्सएप या फेसबुक पर शेयर करने के लिए नीचे क्लिक करें
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten + 13 =

Open chat
1
आपको यह खबर अपने किसान मित्रों के साथ साझा करनी चाहिए। ऊपर दिए गए 'शेयर' बटन पर क्लिक करें।