राज्य कृषि समाचार (State News)

सघन बुवाई और मैकेनाइज्ड फार्मिंग से अधिक हुआ कपास

Share

28 जनवरी 2023,  भोपाल । सघन बुवाई और मैकेनाइज्ड फार्मिंग से अधिक हुआ कपास – मध्य प्रदेश के खरगोन की भूमि सिर्फ सफेद सोने की उर्वरा भूमि नहीं हैं। इस माटी से उपजे किसान हमेशा नवाचारों की नई जमीन तराश कर देते रहे हैं। इसी दिशा में खरगोन जिला मुख्यालय से मात्र 20 किमी. दूर बैजापुरा के किसानों ने ऐसे दो अनुपम और नायाब प्रयोग किये जो किसानों की माली हालत को बदलने में क्रंतिकारी प्रयोग हो सकते हैं। पहला एक ऐसी विधि जो अब तक गेहंू, सोयाबीन, सरसों आदि में बुवाई उपयोगी मानी जाती थी। लेकिन अब सघन बुवाई (एचडीपीएस उच्च घनत्व रोपण प्रणाली) का कपास बुवाई में उपयोग कर दोगुना उत्पादन लिया है। दूसरा-कपास के उत्पादन में 100 प्रतिशत मैकेनाइज्ड फार्म पद्धति का प्रयोग किया। ये दोनों ही प्रयोग अपने आप में नए भी हैं और सफल भी हैं।

महत्वपूर्ण खबर: दलहनी फसल गडमल को नई पहचान दिलाने में जुटे वैज्ञानिक

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *