राज्य कृषि समाचार (State News)

सोशल नेटवर्किंग से बनाए उपभोक्ता, तुरंत बिक रहे प्राकृतिक उत्पाद

Share

21 दिसम्बर 2022, खरगोन: सोशल नेटवर्किंग से बनाए उपभोक्ता, तुरंत बिक रहे प्राकृतिक उत्पाद – सोशल मीडिया के आने के बाद से कई किसानों ने इसको एक अवसर के समान उपयोग कर अपने व्यवसाय को बढ़ाया है। महेश्वर  तहसील के ग्राम बड़वी के किसान श्री भगवान राव पिछले 7 वर्षों से अपने 4 एकड़ खेत पर प्राकृतिक खेती कर रहे हैं । उनसे गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान सहित मप्र के कई शहरों के उपभोक्ता सोशल नेटवर्किंग से जुड़े  हैं । इससे उनकी फसल आते ही बिक जाती है।

इस खेती को अपना कर श्री भगवान राव अपने आप मे बहुत संतुष्ट भी हैं और खुश भी हैं । इसका एक कारण यह है  कि उनसे गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान सहित मप्र के कई शहरों के उपभोक्ता सोशल नेटवर्किंग से जुड़े  हैं । इससे उनकी फसल आते ही बिक जाती है। 6 बीघा खेत में  उन्होंने ऐसा प्रबंधन किया है जिससे वे कई तरह के अनाज और दालों के अलावा सब्जी और फल वाली फसलें भी कर लेते हैं । इनके प्रबंधन का उत्कृष्ट  उदाहरण यह भी है कि हर समय उनके खेत में हरियाली रहती है। कुछ वर्षों से वे गन्ने की खेती को भी प्राथमिकता दे रहे हैं ।  वे गन्ने से स्वयं गुड़ भी बनाते हैं ।  

गुड़ की बर्फी के कई फ्लेवर  बनाए – किसान श्री भगवान राव ने अपनी रचनात्मक्ता का सफल प्रयोग गुड़ की बर्फी के साथ किया है। वे इलाइची, सोंठ ,अदरक के तीन स्वाद  में 20 से 30 ग्राम में बर्फी बना रहे हैं । गन्ने से वे 18 से 20 क्विंटल गुड़ बना रहे हैं । जिसकी मांग जयपुर, अहमदाबाद सहित महाराष्ट्र के कई स्थानों पर होती है। इसे वे अपने मुनाफे के साथ भेज रहे हैं ।

महत्वपूर्ण खबर: कपास मंडी रेट (19 दिसम्बर 2022 के अनुसार)

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *