छत्तीसगढ़ के किसानों ने जाना जवाहर जैव उर्वरक के बारे में

Share

16 अप्रेल 2022, जबलपुर: जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर के मृदा विज्ञान विभाग द्वारा संचालित सूक्ष्मजीव अनुसंधान एवं उत्पादन केंद्र (जवाहर जैव उर्वरक केंद्र) में छत्तीसगढ़ के जैविक खेती केकिसानों के  दल द्वारा विश्वविद्यालय का भ्रमण किया गया। इस दौरान विश्वविद्यालय की विभिन्न जैविक खेती संबंधित महत्वपूर्ण तकनीकी जानकारी प्राप्त की विश्वविद्यालय के संचालक अनुसंधान सेवाएं डॉ जी. के. कौतू द्वारा विश्वविद्यालय में संचालित जैविक खेती से संबंधित चल रहे फसलों पर शोध कार्य एवं जैविक कीटनाशक, जैव उर्वरक के संबंध में बताया गया।

महत्वपूर्ण खबर: देश में महंगे विदेशी कीटनाशकों को लाने की साजिश: कृष्णबीर चौधरी

जवाहर जैव उर्वरक केंद्र के प्रभारी एवं मृदा विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ एन जी मित्रा द्वारा केंद्र में किए गए महत्वपूर्ण अनुसंधान के अंतर्गत समस्त फसलों में उपयोग किए जाने वाले जवाहर जैवउर्वरक की जानकारी प्रदान की गई केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ शेखर सिंह बघेल द्वारा जैविक खेती उपयोग किए जाने वाले विभिन्न कल्चर एवं जवाहर जैव उर्वरक की फसलों के अनुसार उपयोग की जानकारीदी गई।

डॉ राकेश साहू वैज्ञानिक द्वारा जवाहर जैव उर्वरक केंद्र की विभिन्न उत्पाद राइजोबियम, एजोटोबेक्टर, एजोस्पिरिलम, आदि के उपयोग एवं इसके विभिन्न प्रकार के मिट्टी, पर्यावरण एवं पौधों परसकारात्मक प्रभाव पर संपूर्ण जानकारी प्रदान की गई।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.