पैक्स से सभी किसानों को मिलेगा उवर्रक, सहकारिता विभाग ने जारी किए निर्देश

Share

14 सितम्बर 2022, इंदौर: पैक्स से सभी किसानों को मिलेगा उवर्रक, सहकारिता विभाग ने जारी किए निर्देश – प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों (पैक्स) से प्रदेश के सभी किसानों को रासायनिक उवर्रकों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश सहकारिता विभाग द्वारा जारी कर दिए गये हैं । यह कार्यवाही मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह द्वारा कृषकों को उवर्रकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के हाल ही में दिए निर्देश के बाद सहकारिता विभाग ने की है। सहकारिता मंत्री डॉ. अरविन्द सिंह भदौरिया ने विभागीय अधिकारियों को त्वरित कार्यवाही करने के लिए कहा था। इसी संदर्भ में कल भोपाल में जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने किसानों की समस्याओं के संबंध में सहकारिता मंत्री श्री अरविंद भदौरया और कृषि मंत्री श्री कमल पटेल से भेंट की थी।

सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया ने बताया कि प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों के पूर्व के बकाया ऋण को अदा नहीं करने से कृषक कालातीत ऋणी हो गये। यह किसान पिछली कांग्रेस सरकार के कर्ज माफी के वादे की उम्मीद में ऋण अदा नहीं किए और कांग्रेस सरकार ने इनका ऋण माफ नहीं किया जिससे यह किसान कालातीत ऋणी हो गये। कालातीत ऋणी कृषकों को पैक्स से ऋण और खाद-बीज मिलने की पात्रता भी नहीं रही। इसके साथ ही पैक्स को नगद में खाद-बीज विक्रय पर रोक है।किसानों को पैक्स से खाद-बीज प्राप्त करने के लिये पैक्स का सदस्य होना भी जरूरी है। किसानों के हित में निर्णय लेते हए पैक्स संस्थाओं को नगद में उर्वरक एवं बीज विक्रय करने का निर्णय लिया गया है। इससे कालातीत ऋणी कृषक और जो पैक्स के सदस्य नहीं हैं, वे कृषक भी पैक्स से उर्वरक प्राप्त कर सकेंगे।

सहकारिता मंत्री ने कहा कि उर्वरक का भण्डारण करने में आर्थिक रूप से कमजोर पैक्स को क्रेडिट पर 25 टन उर्वरक देने के निर्देश विपणन संघ को दिये गये हैं, जिससे कि आर्थिक रूप से कमजोर पैक्स कृषकों को उर्वरक देने में सक्षम हो सकें। ऐसी प्रत्येक पैक्स को विपणन संघ द्वारा क्रेडिट पर 25 टन उर्वरक दिया जायेगा। यह पैक्स 25 टन उर्वरक के विक्रय से प्राप्त राशि से पुन: उर्वरक का क्रय करेंगी और किसानों को निर्बाध रूप से उर्वरक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेगी।

महत्वपूर्ण खबर: 6 जिलों में अति भारी वर्षा की संभावना

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.