कृषि मंत्री कमल पटेल ने कृषि महाविद्यालय मुरझड़ का किया निरीक्षण

Share

6 जुलाई 2021, बालाघाट I  कृषि मंत्री कमल पटेल ने कृषि महाविद्यालय मुरझड़ का किया निरीक्षण – मध्यप्रदेश शासन के किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने आज 06 जुलाई को बालाघाट प्रवास के दौरान मुरझड़ स्थित राजा भोज कृषि महाविद्यालय का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाओं को देखा। इस दौरान उन्होंने कृषि महाविद्यालय में बनाये गये डिस्कवर बालाघाट म्यूसियम एवं महाविद्यालय के निर्माणाधीन भवन का भी निरीक्षण किया। इस दौरान मध्यप्रदेश शासन के आयुष मंत्री श्री रामकिशोर कावरे, पूर्व मंत्री एवं वर्तमान विधायक श्री गौरीशंकर बिसेन, पूर्व विधायक श्री रमेश भटेरे, महाविद्यालय के डीन डॉ जी के कौतू, उप संचालक कृषि श्री सी आर गौर, कृषि विज्ञान केन्द्र बड़गांव के मुख्य वैज्ञानिक डॉ आर एल राउत, महाविद्यालय के प्राध्यापक एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

डिस्कवर बालाघाट म्यूसियम की सराहना की

कृषि मंत्री श्री पटेल का मुरझ़ड़ के कृषि महाविद्यालय पहुंचने पर डीन डॉ जी के कौतू ने उनका एवं अन्य अतिथियों का स्वागत किया। मंत्री कमल पटेल ने कृषि महाविद्यालय मुरझड़ में बनाये गये म्यूसियम “डिस्कवर बालाघाट” का निरीक्षण किया और इसे बनाने के लिए महाविद्यालय के डीन एवं उनकी टीम की सराहना की। म्यूसियम “डिस्कवर बालाघाट” में बालाघाट जिले में पैदा होने वाली धान समस्त किेस्मों को रोचक ढंग से प्रदर्शित किया गया है। इसके साथ ही जिले की जलवायु, जिले की फसलों वन संपदा, खनिज संपदा, सिंचाई क्षमता, भौगोलिक स्थिति, जिले में निवास करने वाली विशेष पिछड़ी जनजाति बैगा की संस्कृति एवं परंपराओं को प्रदर्शित किया गया है। मंत्री श्री पटेल ने इस म्यूसियम में रखी गई सभी चीजों को ध्यान देखा और वे उससे प्रभावित हुए। उन्होंने कहा कि बालाघाट जिले की सभी विशेषताओं को एक साथ प्रदर्शित करने का यह बहुत अच्छा प्रयास किया गया है।

महाविद्यालय भवन के अधूरे कार्य को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश

कृषि मंत्री श्री पटेल ने कृषि महाविद्यालय के विभिन्न विभागों का भ्रमण किया । इस दौरान उन्होंने महाविद्यालय के निर्माणाधीन भवन के कार्य को भी देखा। इस दौरान बताया गया कि मंडी बोर्ड की 80 करोड़ रुपये की राशि से इस भवन का निर्माण किया जा रहा है। पिछले सात साल से इस भवन का कार्य चल रहा है लेकिन अब तक 50 प्रतिशत से भी कम काम हुआ है। मंत्री कमल पटेल ने महाविद्यालय भवन की इस स्थिति पर नाराजगी जाहिर की और मंडी बोर्ड के इंजीनियर व ठेकेदार को भवन का कार्य शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि भवन के लिए राशि की कोई कमी नहीं है। भवन का कार्य तेजी से एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराया जाये। महाविद्यालय के भवन निर्माण कार्य में अधिक विलंब बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

कृषि मंत्री पटेल एवं अतिथियों ने इस अवसर पर कृषि महाविद्यालय द्वारा जैविक खेती पर तैयार की गई पुस्तिका का विमोचन भी किया।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.