75 दिनों में 2863 करोड़ की उद्धवहन सिंचाई योजना को मिली स्वीकृति – कृषि मंत्री श्री पटेल

Share

सनावद में एग्रो बेस्ड फ़ूड क्लस्टर का भूमिपूजन, खरगोन में टेक्सटाइल पार्क विकसित होगा – उद्योग मंत्री श्री सखलेचा

7 जनवरी 2022, खरगोन । 75 दिनों में 2863 करोड़ की उद्धवहन सिंचाई योजना को मिली स्वीकृति – कृषि मंत्री श्री पटेल मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री श्री कमल पटेल और उद्योग मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने सनावद में 6.779 हेक्टेयर में बनने वाले एग्रो बेस्ड फ़ूड क्लस्टर का भूमिपूजन किया। इस अवसर पर प्रदेश के कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि खरगोन जिले के सर्वांगीण विकास में कोई कमी नहीं रहने देंगे। जैसा कि शासन ने पिछले 75 दिनों में किया है। शासन ने अभी हाल ही में बड़वाह के काटकूट क्षेत्र में 80 गांवो की उद्धवहन सिंचाई योजना स्वीकृत की है। इस सिंचाई योजना से 12 हजार हेक्टेयर भूमि को सिंचित करने का लक्ष्य है। शासन ने इस योजना के लिए 2863 करोड़ रुपये स्वीकृत करते हुए टेंडर जारी कर दिए है। शीघ्र ही इसका भूमिपूजन कार्यक्रम होगा। साथ ही भारत शासन और मप्र शासन द्वारा लगातार विकास के कार्य किये जा रहे है। शासन ने हाथ में लौटा ले जाने की प्रथा को दूर करने के लिए शौचालय बनाये है। इस कार्य में हम शत प्रतिशत सफल हुए है। वहीं गरीबों के मकानों का निर्माण कार्य एक अन्य उपलब्धि है। अब शासन गांव के लोगांे को भी उद्योग औए व्यवसाय की दिशा में ले जाने की दिशा में बढ़ रहे है।

भूमिपूजन कार्यक्रम में प्रदेश के उद्योग मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने संबोधित करते हुए कहा कि इस फूड क्लस्टर में कई इंडस्ट्रीज की स्थापना की संभावना है। इस क्लस्टर के लिए भारत सरकार द्वारा 5 करोड़ और बाकी के 4.68 करोड़ रुपये मप्र शासन प्रदान कर रही है। इस स्वीकृत 968.83 लाख़ से क्लस्टर को विकसित किया जाएगा। भारत शासन आत्मनिर्भर भारत योजना से ये प्रयास कर रही है कि चायना के उत्पाद के स्थान पर हमारे में प्रोडक्ट का प्रचलन बढ़े। इसके लिए भारत शासन ने 13 नए क्लस्टर बनाये है जिसमें सनावद का एग्रो बेस्ड फूड क्लस्टर एक है। इसी तरह 7 अन्य क्लस्टर शीघ्र तैयार किये जा रहे है।

कपास जाएगा और कपड़ा बाहर निकलेगा

उद्योग मंत्री श्री सखलेचा ने खरगोन के संदर्भ में कहा कि यहां कपास का प्रोडक्शन बहुत अधिक होता है और मिलें  कही और है इससे लागत बढ़ जाती है। इसके लिए खरगोन में टेक्सटाइल पार्क विकसित किया जाएगा। जहां कपास पार्क के अंदर जाएगा और कपड़ा बनकर बाहर आएगा। साथ ही कोई व्यक्ति गारमेंट का काम करना चाहता है और 1 करोड़ रुपये तक लगा सकता है तो उसे शासन की नीति के तहत 40 प्रतिशत अनुदान के अलावा 2 हजार रूपये प्रति कर्मचारी को शासन द्वारा दिया जाएगा। इसी तरह 10 करोड़ रुपये इन्वेस्ट करने वाले उदयोग के लिए 50 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा।

कार्यक्रम में खरगोन-बड़वानी सांसद श्री गजेन्द्रसिंह पटेल और खंडवा के सांसद श्री ज्ञानेश्वर पाटिल और बड़वाह के विधायक श्री सचिन बिरला तथा पूर्व महिला आयोग सदस्य सुश्री ज्योति येवतिकर ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में बड़वाह के पूर्व विधायक श्री हितेंद्र सिंग सोलंकी, भगवानपुरा के पूर्व विधायक श्री जमुना सिंह सोलंकी भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम के प्रारम्भ में उद्योग विभाग के महाप्रबंधक श्री एसएस मंडलोई ने क्लस्टर की योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.