राष्ट्रीय कृषि समाचार (National Agriculture News)

35 डिग्री सेल्सियस तापमान गेहूं की उपज पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं डालेगा: केंद्रीय कृषि मंत्री

Share

17 मार्च 2023, नई दिल्ली: 35 डिग्री सेल्सियस तापमान गेहूं की उपज पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं डालेगा: केंद्रीय कृषि मंत्री – केंद्रीय कृषि मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने .गत दिवस  लोकसभा में एक प्रश्न के जवाब में कहा कि  35 डिग्री सेल्सियस जितना अधिक तापमान गेहूं की उपज पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा।

फरवरी 2023 में उत्तरी भारतीय मैदानी इलाकों में अधिकतम तापमान अधिकांश क्षेत्र में 32-33 डिग्री सेल्सियस  के आसपास रहा, लेकिन इस तापमान से गेहूं के दाने के विकास पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की संभावना नहीं है क्योंकि सिंचाई द्वारा फसल के तापमान को हवा के तापमान से 2-3 डिग्री सेल्सियस तक आसानी से नियंत्रित किया जा सकता है। मध्य और प्रायद्वीपीय भारत में, फसल बढ़वार  के दौरान उत्तरी मैदान की तुलना में तापमान हमेशा तुलनात्मक रूप से अधिक रहता है और फसल फिजियोलॉजी के अनुसार स्वाभाविक रूप से समायोजित हो जाती है। इसलिए, इन क्षेत्रों में 35 डिग्री सेल्सियस जितना अधिक तापमान भी गेहूं की उपज पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं डाल पाता हैं।

राज्य कृषि विश्वविद्यालयों (एसएयू) और कृषि विज्ञान केंद्र (केवीके) के सहयोग से आईसीएआर-भारतीय गेहूं और जौ अनुसंधान संस्थान (आईआईडब्ल्यूबीआर), करनाल द्वारा किए गए सर्वेक्षणों के आधार पर यह पाया गया है कि गेहूं की फसल की स्थिति सामान्य है।

आईसीएआर के वैज्ञानिकों ने आवश्यकता पड़ने पर फसल के कैनोपी तापमान को अनुकूल बनाने के लिए हल्की सिंचाई देने की सलाह जारी की है। आईआईडब्ल्यूबीआर किसानों को साप्ताहिक सलाह जारी कर रहा है और यह सूचना राज्य के कृषि विभागों केवीके और एसएयू को प्रसारित की जा रही है। इसकी जानकारी  नियमित रूप से वेबसाइटों और फेसबुक पर अपलोड की जा रही है और व्हाट्सएप समूहों के माध्यम से भी  प्रसारित की जा रही  है। इसके अलावा तापमान की तीव्रता  को कम करने के लिए MOP @ 0.2 प्रतिशत (200 लीटर/एकड़) की दर से छिड़काव करने की सलाह दी जाती है। ये परामर्श आईसीएआर-आईएआरआई, नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित पूसा समाचार के माध्यम से भी जारी किए गए हैं।

आईसीएआर/एसएयू के साथ केंद्र और राज्य सरकारों की सभी विस्तार एजेंसियां नियमित रूप से किसानों के खेतों का दौरा कर रही हैं और किसानों को समय पर सलाह दे रही हैं ।

महत्वपूर्ण खबर: कपास मंडी रेट (15 मार्च 2023 के अनुसार) 

(नवीनतम कृषि समाचार और अपडेट के लिए आप अपने मनपसंद प्लेटफॉर्म पे कृषक जगत से जुड़े – गूगल न्यूज़,  टेलीग्राम )

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *