वीटावेक्स पॉवर – एक श्रेष्ठ बीजोपचारक

Share

4 जून 2022, इंदौर । वीटावेक्स पॉवर – एक श्रेष्ठ बीजोपचारक – देश की प्रसिद्ध कम्पनी धानुका एग्रीटेक लि. का उत्पाद वीटावेक्स पॉवर कार्बोक्सिन और थीरम की 37.5 प्रतिशत की बराबर-बराबर मात्रा वाला (डब्ल्यूएस) ऐसा रासायनिक सम्मिश्रण है, जो बीजोपचार के जरिए बीजजनित और भूमिजनित रोगों पर सफल नियंत्रण करता है। वस्तुत: यह बहुआयामी, शक्तिशाली उत्पाद अन्त: प्रवाही और सम्पर्क दोनों तरीकों का फफूंदनाशक है। इसे फसलों का सम्पूर्ण बीजोपचारक भी कह सकते हैं। यह अंकुरण क्षमता में वृद्धि के साथ ही पैदावार भी बढ़ाता है।

उल्लेखनीय है कि वीटावेक्स पॉवर बीज पर अच्छी तरह चिपकने के कारण यह बीज को सुरक्षा कवच प्रदान करता है। यही नहीं इससे अंकुरण भी शीघ्र और एक समान होता है, जिससे पौधों की वृद्धि और संख्या भी समान बनी रहती है। इस कारण फसल की गुणवत्ता अच्छी और उपज में वृद्धि होती है। वीटावेक्स पॉवर विपरीत परिस्थितियों जैसे अधिक वर्षा, अल्प वर्षा और असमान गहराई में बुवाई होने पर भी बीज का अंकुरण अच्छा होता है। जड़ें भी स्वस्थ और मजबूत रहती हैं।

वीटावेक्स पॉवर की एक अन्य विशेषता यह भी है कि इससे उपचारित बीजों का लम्बे समय तक भंडारण किया जा सकता है और अंकुरण क्षमता भी बनी रहती है। इन्हीं कारणों से अधिक उत्पादन, कम लागत और फसल की गुणवत्ता से किसानों को अधिक मुनाफा होता है। वीटावेक्स पॉवर का प्रयोग खरीफ फसलों सोयाबीन, मूंगफली, कपास, अरहर और आलू के बीजों के उपचार के लिए किया जाता है। सोयाबीन और मूंगफली के बीजोपचार के लिए 3 ग्राम/किलो, कपास में 3.5 ग्राम/किलो, अरहर में 4 ग्राम और आलू में 2.5 ग्राम/किलो बीज मात्रा पर्याप्त है। यह रबी की गेहूं और चना फसल में भी लाभकारी होता है।

महत्वपूर्ण खबर: मध्य प्रदेश में दो चरणों में होंगे नगरीय निकाय चुनाव

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *