सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का सर्वे होगा

Share

21 सितम्बर 2022, इंदौर सोयाबीन फसल में हुए नुकसान का सर्वे होगा  – जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान से येलो मोजेक वायरस बीमारी से खराब हो रही सोयाबीन फसल का सर्वे कराने की मांग की है। अत्यधिक वर्षा के कारण कई जगह सोयाबीन में फली आए बिना ही वह पीली हो गई है और पत्तियां झडऩे लगी हैं। जिससे किसानों में निराशा का माहौल बन गया है। इंदौर के आसपास मालवा के कई क्षेत्रों में इस बीमारी से सोयाबीन की फसल को नुकसान हुआ है।

श्री सिलावट ने मुख्यमंत्री से मिलकर निवेदन किया है कि इसके लिए व्यापक सर्वे पूरे प्रदेश में कराया जाए। जिससे किसानों को मदद मिलेगी और फसलों को होने वाले नुकसान को भी आंकलित किया जा सकेगा। श्री सिलावट के आग्रह पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आश्वासन देते हुए कहा है कि इस बारे में कृषि विशेषज्ञ और वैज्ञानिकों से चर्चा कर प्रदेश के किसानों के हितों के संरक्षण के लिए जल्दी ही निर्णय लिया जाएगा।

महत्वपूर्ण खबर:उच्च खाद्यान्न उत्पादन बनाए रखने के लिए उत्पादकता बढ़ाना जरूरी

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.