फसल बीमा के निर्देश बैंकों को जारी, कृषक फसल बदलाव 29 जुलाई तक बता दें

Share

7 जुलाई 2022, भोपाल: फसल बीमा के निर्देश बैंकों को जारी, कृषक फसल बदलाव 29 जुलाई तक बता दें – प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में वर्ष 2022-23 में खरीफ और रबी के लिये किसानों की अधिसूचित फसलों का बीमा कराने क्लस्टरवार निर्धारित बीमा कम्पनियों को कार्यादेश जारी कर दिये गये हैं। किसानों द्वारा बोई गई फसल में परिवर्तन पर संबंधित बैंकों को 29 जुलाई तक सूचना देना  जरूरी है। किसानों की अधिसूचित फसलों का बीमा करने के लिये बैंकों द्वारा प्रीमियम नामे किये जाने की अंतिम तिथि 31 जुलाई है। मध्य प्रदेश कृषि विभाग के अपर संचालक फसल बीमा श्री बी एम सहारे  ने बताया कि किसानों को बीमांकन की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2022 से दो दिन पहले 29 जुलाई तक संबंधित बैंक से सम्पर्क कर बोई गई वास्तविक फसल की जानकारी अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराना होगी।

एनसीआईपी पर भू-अभिलेख एकीकरण का कार्य जारी

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ-2022 के लिये प्रदेश में नेशनल क्रॉप इंश्योरेंस पोर्टल (एनसीआईपी) पर भू-अभिलेख के एकीकरण का कार्य किया जा रहा है। पंजीयन के समय कृषक की भूमिधारिता संबंधी जानकारी भू-अभिलेख के आधार पर पोर्टल में ड्रॉप-डाउन पर उपलब्ध हो सकेगी। बीमाकर्ता (बैंकर्स, कॉमन सर्विस सेंटर और स्वयं कृषक) संगत खसरा नम्बर का चयन कर धारित भूमि का बीमा कर सकेगा।

बीमा पॉलिसी के लिये एनसीआईपी पर जानकारी दर्ज जरूरी

किसानों को समय पर सही पॉलिसी जारी करने के लिये नेशनल क्रॉप इंश्योरेस पोर्टल (एनसीआई) पर जानकारी दर्ज होना जरूरी है। बैंकों को निर्देश दिये गये हैं कि किसानों के बीमा पंजीयन के दौरान खसरा नम्बर तथा बीमित भूमि के क्षेत्रफल की सही-सही जानकारी पोर्टल पर दर्ज करें।

(कृषक जगत राष्ट्रीय कृषि अखबार की वेबसाइट में समाचार रिपोर्टिंग में सुधार करने में हमारी सहायता करें। एक छोटा सा सर्वे भरें और हमें बताएं कि आप किस बारे में अधिक पढ़ना चाहते हैं। सर्वे भरने के लिए यहां क्लिक करें)

महत्वपूर्ण खबर: यूपीएल ने धान के लिए फ्लूपाइरीमिन कीटनाशक ‘केवुका’ लॉन्च किया

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.