डॉ. संजय राजाराम को मरणोपरांत पद्मभूषण सम्मान

Share

27 जनवरी 2022, नई दिल्ली । डॉ. संजय राजाराम को मरणोपरांत पद्मभूषण सम्मान भारतीय मूल के वैज्ञानिक और मेक्सिको में बसे डॉ. संजय राजाराम को मरणोपरांत वर्ष 2022 के लिए भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण से सम्मानित किया गया। स्व. डॉ. राजाराम को वर्ष 2001 में पद्म श्री सम्मान और वर्ष 2014 में वल्र्ड फूड प्राइज से भी नवाजा गया था।

डॉ. राजाराम ने अपने अनुसंधान से गेहूं की 480 किस्में विकसित की थी जो दुनिया के 50 से अधिक देशों में लगाई जा रही है। और इसके कारण गेहूं उत्पादन भी बढ़ा और विश्व की आबादी की भूख मिटाने में अपना योगदान दिया। आप CIMMYT के निदेशक रहे और तदोपरांत ICARDA संगठन में शामिल हुए। आपका गत फरवरी में मैक्सिको में कोविड-19 के कारण असामयिक निधन हो गया।


चित्र में : कुछ वर्ष पूर्व डॉ. संजय राजाराम अस्पी लिमिटेड के वार्षिक कार्यक्रम में मुंबई पधारे थे। अस्पी के चेयरमेन श्री शरद पटेल संचालक श्री जतिन पटेल के साथ कृषक जगत संपादक सुनील गंगराड़े ने उनसे भेंट की थी। उक्त अवसर के चित्र।
Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.