इन्दौर जिले में 15 फरवरी तक 11 हजार किसान क्रेडिट कार्ड बनाने का लक्ष्य

Share

8 फरवरी 2022, इंदौर । इन्दौर जिले में 15 फरवरी तक 11 हजार किसान क्रेडिट कार्ड बनाने का लक्ष्य –  इंदौर जिले में भारत शासन के मत्स्य पालन एवं डेयरी मंत्रालय के निर्देशानुसार 15 फरवरी तक अभियान चलाकर  नेशनवाइड एनिमल हस्बेड्री डेयरी एवं फिशरीज योजना के तहत किसान क्रेडिट कार्ड बनाये जायेंगे। अभियान के अंतर्गत पात्र पशुपालक, दुग्ध उत्पादक संगठन को किसान क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराते हुये पशुपालन की गतिविधि से जोड़ा जायेगा। साथ ही मत्स्य पालकों को भी किसान क्रेडिट कार्ड दिये जायेंगे। यह जानकारी  यहां कलेक्टर श्री मनीष सिंह द्वारा गत दिनों अभियान की प्रगति की समीक्षा के लिये ली गई बैठक में दी गई।

बैठक में बताया गया कि जिले में पशु पालकों तथा मत्स्य पालकों के क्रेडिट कार्ड अभियान बनाकर बनाये जा रहे है। जिले में इस अभियान के तहत वर्तमान में 11 हजार प्रकरण तैयार किये जा रहे हैं । कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने निर्देश दिये हैं  कि निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति समय-सीमा में की जाये। इस कार्य में लापरवाही नहीं बरती जाये।  पशुपालन की गतिविधियों में पशुपालक के किसान क्रेडिट कार्ड लिंकेज होने पर पशुचारा, दाना, बाटा क्रय करने हेतु बैंक शाखा के द्वारा प्रति गाय 15 हजार रूपये एवं प्रति भैंस 18 हजार रूपये राशि 3 माह के लिये प्रदाय की जायेगी। पशुपालक 3 माह में जमा करके पुनः राशि आवश्यकता अनुसार प्राप्त कर सकता है।

अभियान के आवेदन पत्र तैयार करने हेतु कृषक, पशुपालक निकट के पशु चिकित्सा संस्था प्रभारी से संपर्क करके आवेदन पत्र तैयार करवायें। आवेदन पत्र के साथ कृषक को जमीन की खसरा नकल, राशन कार्ड, पेन कार्ड, आधार कार्ड एवं बैंक के किसान क्रेडिट कार्ड का खाता क्रमांक उपलब्ध कराना होगा।बैठक में अपर कलेक्टर श्री अभय बेड़ेकर, उपायुक्त सहकारिता श्री मदन गजभिये सहित विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि, पशु चिकित्सा तथा मत्स्य पालन विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.