राजस्थान के मत्स्य एवं पशुपालकों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण वितरण किया जाए

Share

30 जुलाई 2022, जयपुर । राजस्थान के मत्स्य एवं पशुपालकों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण वितरण किया जाए प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता श्रीमती श्रेया गुहा ने कहा कि किसानों के साथ-साथ मत्स्यपालकों एवं पशुपालकों को भी शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण उपलब्ध कराए ताकि इनकी जरूरतें पूरी हो सके। उन्होंंने निर्देश दिए कि अधिक से अधिक नए सदस्य किसानों को फसली ऋण से जोड़ा जाए और इस वर्ष 5 लाख नए सदस्य किसानों को शून्य प्रतिशत पर फसली ऋण का लाभ दिलाया जाए।

श्रीमती गुहा अपेक्स बैंक में सभी केन्द्रीय सहकारी बैंकों के प्रबंध निदेशकों की बैठक को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि सभी बैंक यह सुनिश्चित करें कि राजीविका से जुड़े स्वयं सहायता समूहों को आवश्यकता अनुसार ऋण उपलब्ध कराए। उन्होंने कहा कि इस वर्ष 25 करोड़ का ऋण इन समूहों को वितरित किया जाना है। इसके लिए बैंक योजनाबद्ध तरीके से इन समूहों को ऋण सुविधा से जोड़े।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशों के क्रम में प्रत्येक ग्राम पंचायत पर ग्राम सेवा सहकारी समिति के गठन किया जाना है। अत: ग्राम सेवा सहकारी समितियों अपनी आय के लिए केवल फसली ऋण वितरण तक ही सीमित नही रहे। उन्होंने निर्देश दिए कि ग्राम सेवा सहकारी समितियों को व्यवसाय के विविधिकरण के लिए प्रेरित करे ताकि स्वयं की आवश्यकता के साथ-साथ आस-पास के लोगों की जरूरतों को भी पूरा कर सके।

बैठक में अतिरिक्त रजिस्ट्रार प्रथम श्री राजीव लोचन शर्मा, अतिरिक्त रजिस्ट्रार बैंकिंग श्री ओम प्रकाश पारीक तथा सभी केन्द्रीय सहकारी बैंकों के प्रबंध निदेशक तथा अपेक्स बैंक के संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

महत्वपूर्ण खबर: जयपुर में मनरेगा परतीन दिवसीय कार्यशाला

Share
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.